IAS पूजा सिंघल के 6 ठिकानों पर ED ने मारी रेड, रांची-मुजफ्फरपुर समेत 6 जगहों पर ED ने की छापेमारी

पटना/रांची: मनी लॉन्ड्रिंग और आय से अधिक संपत्ति के मामले में गिरफ्तार झारखंड की निलंबित आईएएस अफसर पूजा सिंघल के खिलाफ ईडी की टीम पूरी कुंडली खंगाल रही है. सूत्रों के अनुसार मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने झारखंड में छह स्थानों और बिहार के मुजफ्फरपुर में एक स्थान पर छापेमारी की है.  

सूत्रों के अनुसार मंगलवार को ईडी की टीम मुजफ्फरपुर में इस घोटाले में शामिल बिचौलियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. जिले के ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र के राहुल नगर में त्रिवेणी चौधरी नाम के व्यक्ति के आवास पर रेड पड़ी है.यहां ईडी के हाथ बड़े सुराग लग सकते हैं.

बताया जाता है कि मुजफ्फरपुर के त्रिवेणी चौधरी का पुत्र झारखंड में एक कॉलेज संचालित करता है. जिसके आईएएस पूजा सिंघल और उनके सीए से काफी अच्छे संबंध रहे हैं. पूजा सिंघल की उससे काफी ज्यादा नजदीकी थी और उससे कई काम भी करवाए थे.

इसके पहले भी बिहार के मुजफ्फरपुर में छापेमारी हो चुकी है. ऐसे में एक बार फिर से बिहार के मुजफ्फरपुर में हो रही छापेमारी को लेकर कहा जा रहा है कि कुछ और भी जानकारी यहां से ईडी की टीम को मिल सकती है. बता दें कि निलंबित आईएएस पूजा सिंघल का बिहार कनेक्शन रहा है. पूजा सिंघल का बिहार के मुजफ्फरपुर में ससुराल है. यहां मिठनपुरा का जगदीशपुरी मोहल्ले में घर है.

पूजा सिंघल अभी रिमांड पर हैं. निलंबित आईएएस पूजा सिंघल और उनके सीए समुन को प्रवर्तन निदेशालय की स्पेशल पीएमएलए (PMLA) कोर्ट में पेश किया गया था. इस दौरान ईडी द्वारा कोर्ट से पूजा सिंघल की छह दिन की रिमांड की डिमांड की गई थी लेकिन कोर्ट ने 20 मई को 5 दिन की रिमांड को मंजूरी दी थी. सीए सुमन होटवार जेल में है.

बता दें कि सिंघल को जांच एजेंसी ने 11 मई को झारखंड के खूंटी जिले में मनरेगा फंड के कथित गबन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था. ईडी द्वारा चार राज्यों में कई स्थानों पर छापेमारी के बाद सिंघल को गिरफ्तार किया गया था. एजेंसी ने कथित तौर पर उसके चार्टर्ड अकाउंटेंट सुमन कुमार के आवास से 19 से 20 करोड़ रुपये के आसपास बरामद किए थे.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More