बिहार: CA की छात्रा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, जांच में जुटी पुलिस

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर में CA की तैयारी कर रही छात्रा ने गले में दुपट्टा का फंदा डालकर खुदकुशी कर ली.  घटना काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के पंखा टोली मोहल्ले की है. छात्रा का शव बंद कमरे में पंखे से लटकता हुआ मिला. सूचना पर काजीमोहम्मदपुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंचकर जांच की. पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला.

पुलिस के अनुसार मृतका की पहचान अंजली जायसवाल (23) के रूप में हुई है. पुलिस का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम में भेजने की कवायद की जा रही है. वह किराना व्यवसाई अजय चौधरी की बेटी थी. दुपट्टा काटकर शव को पंखे से उतारा गया.जांच में पहुंची पुलिस को पता चला कि वुधवार की रात उसने घरवालों के साथ खाना खाई. इसके बाद वह कमरे में सोने चली गई. गुरुवार की सुबह कमरा बंद देख स्वजन परेशान हो गए. इसके बाद स्वजन को अनहोनी की आशंका होने लगी. इस बीच सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची.

पुलिस का कहना है कि कमरे का दरवाजा भीतर से बंद था. दरवाजा तोड़वाया गया. देखा गया कि छात्रा का शव पंखे से झूल रहा है. दुपट्टा को काटकर शव को नीचे उतारा गया. चेहरा काला पड़ चुका था. कमरे की तलाशी लेने पर दो मोबाइल जब्त किया गया. इसके अलावा कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. उसके कान में ब्लूटूथ लगा हुआ था. विस्तर पर किताब खुली हुई थी. छानबीन में पता चला कि छात्रा के पास दो मोबाइल होने की जानकारी स्वजनों को नहीं थी. स्वजन बता रहे कि उनलोगों को एक ही मोबाइल की जानकारी थी.

पूछताछ में स्वजनों ने बताया कि अंजली शहर के एक कोचिंग में पढ़ाई करने जाती थी. पुलिस उस कोचिंग में जाकर भी पूछताछ करने की कवायद कर रही है, ताकि खुदकुशी के कारणों का पता चल सके.

थानाध्यक्ष सत्येंद्र सिन्हा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के सही कारण का पता चलेगा. साथ ही मोबाइल का काल डिटेल्स भी खंगाला जा रहा, ताकि यह पता चल सके कि किससे उसकी बात हो रही थी. क्योंकि कान में ब्लूटूथ लगा है. अंतिम काल किसका था. इन सभी बिंदुओं पर जांच कर गुत्थी सुलझाने की कवायद की जायगी. इधर, घटना के बाद स्वजनों में कोहराम मच गया है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More