पटना: तेज रफ्तार फार्चूनर ने ऑन ड्यूटी महिला कॉन्स्टेबल को 300 मीटर तक घसीटा, महिला गंभीर रूप से घायल

पटना: राजधानी पटना में शनिवार की रात को बड़ा हादसा हुआ है. पटना के व्यस्ततम और महत्वपूर्ण बेली रोड पर भीषण सड़क हादसे में ट्रैफिक पुलिस की महिला कॉन्स्टेबल गंभीर रूप से घायल हो गई. दरअसल तेज रफ्तार से जा रही फॉर्च्यूनर कार ने महिला कॉन्स्टेबल बबीता कुमारी को कुचलते हुए 300 मीटर तक घसीट डाला. फॉर्च्यूनर गाड़ी बबीता कुमारी को आयकर गोलंबर से मजार तक घसीटते हुए ले कर चली गई. बाद में फल दुकानदारों और आसपास के लोगों की मदद से गाड़ी को खदेड़ कर रोका गया.

लोगों के सहयोग से पुलिस  ट्रैफिक महिला कांस्टेबल को गंभीर हालत में हॉस्पिटल ले गई. इस हादसे के दौरान कार पर सवार अभिनव कुमार सिंह और उसके साथ बैठी जूही कुमारी ने भागने की कोशिश की लेकिन स्थानीय लोगों ने उन्हें पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया. दोनों आपस में रिश्तेदार बताए जा रहे हैं. फिलहाल ट्रैफिक पुलिस ने कार को जब्त कर लिया है. पटना के ट्रैफिक एसपी की मानें तो ट्रैफिक कांस्टेबल की हालत गंभीर बनी हुई है.

ट्रैफिक एसपी के अनुसार गंभीर रूप से घायल महिला कॉन्स्टेबल बबिता कुमारी मूल रूप से शेखपुरा जिले की रहने वाली है. वो पटना में ट्रैफिक पुलिस में कार्यरत है. बबीता कुमारी की तैनाती ट्रैफिक संचालन के मकसद से पटना के इनकम टैक्स गोलंबर पर की गई थी. प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बेली रोड पर फॉर्च्यूनर कार हड़ताली मोड़ की तरफ से आ रही थी और इनकम टैक्स गोलंबर घूमने की वजह है कार चालक ने गलत तरीके से कार से यू -टर्न लेने की कोशिश की. इसी दौरान मौके पर मौजूद ट्रैफिक कांस्टेबल बबिता ने कार को रोकने का प्रयास किया लेकिन कार चालक अभिनव कुमार सिंह ने उसे सीधी टक्कर मार दी.

टक्कर मारने के बाद ट्रैफिक कांस्टेबल बीच सड़क पर गिर पड़ी. उसने उठने की भी कोशिश की लेकिन चालक ने तेजी से गाड़ी आगे बढ़ाई. कॉन्स्टेबल का यूनिफार्म का विसिल कार्ड फुट रेस्ट में फंस गया. चालक भागने में लगा रहा और उसने बबीता की चीख भी नहीं सुनी. स्थानीय लोगों की मानें तो गाड़ी बढ़ते बबीता एक बार चिल्लाई और फिर बेहोश हो गई. करीब 300 मीटर दूर हाईकोर्ट मजार के पास लोगों ने कार को किसी तरह से रुकवाया.

पूछताछ में कार चालक अभिनव ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी है कि फॉर्च्यूनर कार उसी की है. उसने बताया कि वह पटना के ही नेहरू नगर में रहकर बालू का कारोबार करता है. उसके साथ मौजूद लड़की खुद को बीपीएससी की तैयारी करने वाली छात्रा बता रही थी. उसने मूल रूप से अपना घर सहरसा जिला बताया है. लड़की ने इस बात की जानकारी दी है कि वो दोनों रिश्तेदार है और वह पटना के गर्ल्स हॉस्टल में रहकर पढ़ती है.

कार सवार युवक युवती ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी है कि वो अटल पथ से लौट रहे थे और युवक अभिनव उसे हॉस्टल छोड़ने जा रहा था. गोलंबर से पहले उन्होंने यू टर्न लेने की कोशिश की लेकिन महिला सिपाही ने उसे रोक दिया इसके बाद वे कार रोक रहे थे तभी सिपाही उसकी कार में फंस गई. अभिनव का दावा है कि उसे जब एहसास हुआ कि महिला कॉन्स्टेबल कार में फंस गई है तो उसने कार रोकने की कोशिश की.घटना की जांच के लिए पुलिस सीसीटीवी फुटेज का सहारा लेने में जुट गई है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More