अवैध बालू खनन मामले में निलंबित SDPO के पटना व बक्‍सर आवास पर EOU का छापा

पटना: बालू के अवैध खनन मामले में कार्रवाई का सिलसिला जारी है. मंगलवार सुबह आर्थिक अपराध इकाई की टीम ने रोहतास के निलंबित अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संजय कुमार के ठिकानों पर दबिश दी. पटना और बक्सर के ठिकानों की एक साथ तलाशी ली जा रही है. पटना के राजीवनगर थाना अंतर्गत आशियाना नगर के सूर्य विहार कालोनी-1 और बक्सर के मुरार थाना अंतर्गत बसंतपुर चौगाई गांव स्थित पैतृक आवास पर छापेमारी की गई है.

पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र के खजपुरा स्थित मकान पर आर्थिक अपराध इकाई के डीएसपी जाकिर अहमद और रजनीश कुमार छापेमारी का नेतृत्व कर रहे हैं जबकि पैतृक आवास बक्सर में तीन पुलिस इंस्पेक्टर के नेतृत्व में छापेमारी चल रही है. संजय कुमार फिलहाल निलंबित चल रहे हैं. संजय कुमार पर आरोप है कि रोहतास में डेहरी ऑन सोन में अपनी पदस्थापना के दौरान इनकी भूमिका संदिग्ध रही थी और बालू माफियाओं से सांठगांठ कर इन्होंने न केवल अकूत संपत्ति अर्जित की बल्कि सरकार को राजस्व का चूना भारी क्षति भी पहुंचाई.

आर्थिक अपराध इकाई नैयर हसनैन खान के निर्देश पर इनके खिलाफ आर्थिक अपराध इकाई के थाने में ही संख्या 4/22 के तहत आय से अधिक संपत्ति मामले में केस दर्ज किया गया है. भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 13{ 2 }और 13 {1 } और संशोधित 218 20 18  के तहत दर्ज की गई है और न्यायालय से अनुमति मिलने के बाद आज छापेमारी चल रही है. आर्थिक अपराध इकाई के सूत्रों की माने तो संजय कुमार के खिलाफ प्रथम दृष्टया आय से अधिक कई गुणा अधिक संपत्ति मिली है.

बालू माफियाओं से सांठगांठ रखने के आरोप में सरकार की कार्रवाई की जद में दारोगा से लेकर एसपी तक के अधिकारी आ चुके हैं. इसके पहले भोजपुर के निलंबित एसपी राकेश दुबे और औरंगाबाद के निलंबित एसपी सुधीर समेत दर्जनों अफसरों पर कार्रवाई हो चुकी है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More