गया में दर्दनाक हादसा: दम घुटने से मां समेत तीन बच्चों की हुई मौत

गया: बिहार के गया जिले से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां शुक्रवार की सुबह एक ही परिवार के चार लोगों की संदेहास्पद स्थिति में मौत का मामला सामने आया है. मामला अतरी थाना क्षेत्र के दरियापुर पंचायत के मालती गांव का है. बता दें कि मृतक के परिजन दूसरे प्रदेश में मजदूर का काम करते हैं. वहीं, ये गांव में रहकर जीवनयापन करते थे. इसी क्रम में शुक्रवार की सुबह जब देर तक घर का दरवाजा बंद दिखा, तो लोगों ने पड़ताल शुरू की. इस दौरान उन्होंने पाया कि सभी का शव बेड पर पड़ा था. मौत कैसे हुई है यह स्पष्ट नहीं हो पाया है. 

ग्रामीण चंदन कुमार ने बताया कि सभी मच्छर भगाने वाले किसी क्वायल को जलाकर बीती रात सोने गए थे, जिसके बाद यह घटना हुई है. ग्रामीण जहरीली क्वायल को मौत की वजह बता रहे हैं. मृतकों में 35 वर्षीय महिला विभा देवी व उसकी 10 वर्षीय पुत्री सिमरन कुमारी, 4 वर्षीय पुत्री अंकिता कुमारी और 8 वर्षीय पुत्र आर्यन कुमार शामिल हैं. मौत की खबर पूरे पंचायत में आग की तरह फैल गई है. घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.

इधर, घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची अतरी थाना पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है. वहीं, घटना से आक्रोशित परिजन व ग्रामीण मुआवजे की मांग कर रहे हैं, जिसे पुलिस बल द्वारा समझाने की कोशिश की जा रही है. घटना के संबंध में बथानी डीएसपी विनय कुमार शर्मा ने बताया कि सूचना के बाद मौके पर पुलिस बल को भेजा गया है. पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा. फिलहाल, पुलिस परिजनों को समझाने में जुटी है, परिजनों की रजामंदी के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा जाएगा. वहीं, पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है.

हालांकि, परिजन व ग्रामीण जहरीली क्वायल से ही मौत की बात मान रहे हैं. गौरतलब है कि नकली मच्छर भगाने वाली अगरबत्ती बनाने की सूचना के खिलाफ गुरुवार की देर रात चंदौती थाना पुलिस ने शहर के कंडी नवादा मोहल्ले में छापेमारी की थी, जहां से भारी मात्रा में नकली मच्छर भगाने वाली अगरबत्ती और नकली केमिकल को बरामद किया गया था. वहीं, इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More