बिहार: स्‍टेट बैंक की मुख्‍य शाखा में लगी भीषण आग, लॉकर को छोड़ सब कुछ जलकर हुआ राख

बक्सर: बिहार के बक्सर में एसबीआई की मुख्य ब्रांच में आग लगने से हाहाकर मच गया. एसबीआई के मुख्य ब्रांच में अचानक सुबह तीन बजे आग लगने से आसपास के घरों में रहने वाले लोगों में अफरा तफरी मच गई. घटना नगर थाना क्षेत्र के पिपरपाती रोड में पोस्ट ऑफिस के पास की है. स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना बैंक के बड़े अधिकारियों से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को दे दी है.

सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंचे फायर ब्रिगेड के जवानों ने दमकल की गाड़ियों की मदद से किसी तरह आग पर काबू पाया है. हालांकि, कार्यालय के अंदर अभी भी आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है. वहीं, प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मकर संक्रांति होने के कारण सुबह से ही लोग स्नान करने के लिए जगे हुए थे, तभी अचानक बैंक से आग की ऊंची-ऊंची लपटें निकल रही थी.

वहीं, बैंक में तैनात नाइट गार्ड ने बताया किसुबह तीन बजे के करीब शॉर्ट सर्किट से बैंक में आग लग गई. जिसकी सूचना बैंक अधिकारियों को दी गई है. दमकल कर्मियों की सहायता से आग पर काबू पाया गया है. जिसमें सब कुछ जलकर राख हो गया है.

वहीं, बैंक में आग लगने की सूचना मिलने के बाद ब्रांच में पहुंचे शाखा के मुख्य प्रबंधक तरुण कुमार मिश्रा ने बताया कि ”2 बजकर 45 मिनट पर रात में ये सूचना मिली कि बैंक में आग लगी है. जिसकी सूचना मैंने नगर थाना को दी. 15 मिनट के अंदर दमकल की कई गाड़ियां पहुंची और काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. आग लगने की वजह क्या है, यह तो जांच के बाद ही पता चलेगा. लॉकर को छोड़कर सब कुछ जलकर राख हो गया है. हालांकि, बैंक के ग्राहकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है. डाटा बैकअप की बैंक के पास अतिरिक्त व्यवस्था है. उनके सारे दस्तावेज सुरक्षित है.”

बक्सर में बैंक में आग लगने की सूचना प्रशासनिक अधिकारियों से लेकर बैंक कर्मी को दी गई है. जिसके बाद किसी तरह आग पर काबू पाया गया. वहीं, घटना के बाद बैंक में उपस्थित बैंक कर्मियों ने बताया कि लॉकर का सामान छोड़कर सभी सामान जलकर राख हो गया है. कोई भी दस्तावेज नहीं बचा है. जिसकी सूचना वरीय अधिकारियों को भी दी गई है. गौरतलब है कि आगलगी कि इस घटना में सब कुछ जलकर राख हो जाने के बाद भी ब्रांच के मुख्य प्रबंधक तरुण कुमार मिश्रा का यह दावा है कि ग्राहकों से जुड़े किसी भी डाटा का कोई नुकसान नहीं हुआ है. बैंक में अतिरिक्त डाटा बैकअप की व्यवस्था रहती है. जल्द ही कंट्रोलर से बात कर टीम सभी डाटा को कलेक्ट कर लेगी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More