नालंदा-शेखपुरा बॉर्डर पर भीषण सड़क हादसा: रॉन्ग साइड में घुसे हाईवा ने ऑटो में मारी जोरदार टक्कर, 4 लोगों की मौत

नालंदा/शेखपुराः बिहार में नालंदा और शेखपुरा बॉर्डर पर बड़ा सड़क हादसा गया. एक हाईवा और ऑटो में टक्कर हो गई. हरगावां मोड़ के समीप यह हादसा हुआ है. इस हादसे में ऑटो में सवार 4 लोगों की मौत हो गई है. जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. घायलों को बरबीघा रेफरल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

दुर्घटना के बारे में बताया जा रहा है कि बिहारशरीफ की तरफ से रॉन्ग साइड में आ रही ऑटो को हाइवा ने टक्कर मार दी. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक यह टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ऑटो के परखच्चे उड़ गए.

दुर्घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दो महिलाओं के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए बिहारशरीफ के सदर अस्पताल भेज दिया है.

इधर घटना के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और उन्होंने हाइवा में तोड़फोड़ की और उसको आग के हवाले कर दिया. भीड़ ने सड़क पर आगजनी की और जमकर हंगामा मचाया. इसकी सूचना मिलने पर पुलिस और डीएसपी सदर शिब्ली नोमानी वहां पहुंचकर लोगों को शांत करने में जुटे हुए हैं. लेकिन आक्रोशित लोग मानने को तैयार नहीं है. फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

पुलिस ने आरोपी हाइवा चालक को हिरासत में ले लिया है. पुलिस दुर्घटना में मारे गए लोगों की पहचान जानने का प्रयास कर रही है.

मृतकों में एक महिला की पहचान नालंदा जिले के नीरपुर गांव निवासी ललन सिंह उर्फ विपिन कुमार की 30 वर्षीय बेटी स्नेहलता कुमारी के रूप में हुई है. मृतक पटना से अपने मायके जा रही थी. उसके पिता ने बताया कि वह राज बस पर सवार होकर पटना से बिहारशरीफ उतरी और बिहारशरीफ से इसी ऑटो पर सवार होकर मायके जा रही थी कि रास्ते में हादसा हो गया. उन्होंने बताया कि अपनी बेटी को लाने वह खुद कल पटना गए थे और नाती को अपने साथ ही लेते आए. अगर आज नाती इस पर सवार होता तो उसकी भी जान चली जाती.

वहीं, बरबीघा अस्पताल में मौजूद एक मृतका की पहचान नालंदा जिले के अस्थावां निवासी मोहम्मद इस्लाम की 45 वर्षीय पत्नी बुन्नी खातून के रूप में हुई. मृतका किसी फाइनेंशियल बैंक के समूह में शामिल होने के लिए अपने घर से बरबीघा जा रही थी. जबकि एक अन्य मृतक की पहचान ऑटो ड्राइवर नालंदा जिले के उपरौरा गांव निवासी स्व जगदीश लाल के 28 वर्षीय पुत्र मिंटू पासवान के रूप में हुई.

​​​​​​​बरबीघा अस्पताल में एक घायल की पहचान नालंदा जिले के उपरौरा गांव के जितेंद्र पासवान के 17 वर्षीय पुत्र गोविंद कुमार के रूप में हुई. वह बरबीघा रेफरल अस्पताल में भर्ती हैं. घायल ने बताया कि वह अपने चाचा मिंटू पासवान के कहने पर उसके साथ बरबीघा आ रहा था कि दुर्घटना हो गई. ​​​​​​​वहीं, पावापुरी भेजे गए घायलों में से एक की पहचान शेखपुरा जिले के बरबीघा प्रखंड के तेउस गांव निवासी धनराज राम की पत्नी सुलेखा कुमारी के रूप में हुई.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More