बिहार: 2 बच्चों के बैंक खाते में आए 960 करोड़ रुपये, बैलेंस चेक करने के लिए बैंक में उमड़ पड़े गांव के लोग

कटिहार: बिहार के कटिहार में दो बैंक खातों में 960 करोड़ रुपए आ गए. जिसके बाद आसपास के लोग भी इस उम्मीद से अपने खाते की जांच करने लगे कि शायद उनकी भी किस्मत खुल गई हो. सौ- दो सौ करोड़ ना सही लाख दो लाख ही आ गए हों. इसके बाद बैलेंस चेक करने के लिए यहां सीएसपी और बैंक ATM के आगे लंबी लाइन लग गई. इतना बड़ा अमाउंट एकाउंट में आने से बैंक अधिकारी भी हैरान हैं.

जानकारी के अनुसार बिहार में स्कूली छात्र-छात्राओं को पोशाक के ल‍िए रुपये द‍िए जाते हैं. यह राश‍ि बैंक खाते में ही आती है. दो बच्चे गुरुचंद्र विश्वास और असित कुमार पोशाक सीएसपी सेंटर पहुंचे. वे जानना चाह रहे थे क‍ि पोशाक की राशि आयी है क‍ि नहीं. दोनों बच्‍चे आजमनगर थाना के बघौरा पंचायत स्थित पस्तिया गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं. यहां दोनों को पता चला कि खातों में तो करोड़ों रुपए जमा हैं. यह सुनकर बच्चे वहां खड़े अन्य लोग भी चौंक गए. छात्र गुरुचन्द्र विश्वास के खाता – 1008151030208081 में 60 करोड़ रुपये से अधिक की राशि जमा है. जबकि असित कुमार के खाता- 1008151030208001 में 900 करोड़ से ज्यादा की राशि जमा है. दोनों खाता उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक भेलागंज शाखा का है.

उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के शाखा प्रबंधक मनोज गुप्ता को जब इस बात पता चला तो वह हैरान रह गए. उन्होंने तुरंत दोनों बच्चों के खाते से भुगतान पर रोक लगा दिया और बैंक के वरीय पदाधिकारियों को इसकी सूचना दी है. बच्चों के खातों में पैसे किसने भेजे और क्यों भेजे इसकी जांच की जा रही है.

एलडीएम एमके मधुकर ने बताया कि बैंक से मामला आने के बाद इसकी जांच की जायेगी. हालांकि बैंक अधिकारी सह‍ित सभी लोग हैरान हैं. साथ ही बच्‍चे और उसके अभ‍िभावकों को यह पता नहीं है कि यह राश‍ि कहां से आयी है.

इस संबंध में जिलाधिकारी उदयन मिश्रा ने बताया कि इस संबंध में बैंक अधिकारि‍यों से बाचचीत की है. प्रारंंभिक जांच से जानकारी म‍िली है तकनीकी गड़बड़ी के कारण मिनी स्टेटमेंट में इतनी बड़ी राशि दिखाई दे रहा था. छात्रों के खाते में कुछ भी राशि क्रेडिट नहीं हुई है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More