GST Scam: झारखंड में 300 करोड़ का जीएसटी घोटाला, 19 कंपनियों ने की 26.5 करोड़ की टैक्स चोरी

रांची: झारखंड में जीएसटी घोटाले की कई स्तरीय जांच के बाद अब लगभग तय हो गया है कि 19 कंपनियों ने फर्जीवाड़ा कर करीब 300 करोड़ का घोटाला किया है. सीजीएसटी, रांची के स्तर से इन कंपनियों की जांच के बाद यह फाइनल आंकड़ा सामने आया है. बता दें कि जीएसटी के तहत फर्जी तरीके से इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ लेने वाली कंपनियों के बारे में पूर्व में राज्य के वाणिज्यकर विभाग ने भी खुलासा किया था. सीजीएसटी ने इसी जांच को आगे बढ़ाते हुए अब घोटाले से जुड़ी स्थिति साफ कर दी है.

झारखंड में रजिस्टर्ड 19 कंपनियों ने 300 करोड़ का घपला कर 26.51 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की है. सीधे शब्दों में समझें तो टैक्स की चोरी के लिए इन कंपनियों ने करीब 300 करोड़ के फर्जी बिल जारी किए. इन कंपनियों द्वारा दाखिल किए गए कागजातों की जांच-पड़ताल में यह साफ हो गया कि यह कंपनियां फर्जी बिल के आधार पर इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ ले रही थीं. पते भी फर्जी थे. मजे की बात है कि किसी भी कंपनी द्वारा दिए गए पते का कोई अस्तित्व ही नहीं है.

फर्जीवाड़े के लिए दूसरे राज्यों के फर्जी पते का भी इस्तेमाल किया गया है. एक ही मोबाइल और ई-मेल आइडी से कई जीएसटी रजिस्ट्रेशन हुए हैं. हालांकि घोटाले की राशि की स्थिति स्पष्ट होने के बाद भी घोटालेबाजों के बारे में जानकारी अब तक स्पष्ट नहीं हुई है. सीजीएसटी ने इसकी जानकारी क्षेत्रीय कार्यालयों से तलब की है और इसमें संलिप्त लोगों पर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है. यहां यह स्पष्ट कर दें कि जीएसटी घोटाले का यह कोई नया मामला नहीं है. पूरे देश में घोटालेबाज सरकार चपत लगा रहे हैं. हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा यह जानकारी भी साझा की गई थी कि पूरे देश में लगभग 35 हजार करोड़ रुपये का जीएसटी घोटाला हुआ है.

इन कंपनियों का फर्जीवाड़ा उजागर

ताराचंदी इंटरप्राइजेज         68.54 करोड़

टीएनएम इंटरप्राइजेज          58.22 करोड़

सिंघानिया कंस्ट्रक्शन           15.22 करोड़

शिव शक्ति इंटरप्राइजेज       59.23 करोड़

विशाल ट्रेडर्स                       3.94 करोड़

प्रीत ट्रेडर्स                           4.09 करोड़

धरम इंटरप्राइजेज                3.58 करोड़

राधे ट्रेडर्स                           5.27 करोड़

मिश्र ट्रेडर्स                          3.64 करोड़

लखवीर सिंह                     1.70 करोड़

फिरोज हुसैन                      5.26 करोड़

कृष्णा ट्रेडर्स                        4.98 करोड़

ओम इंटरप्राइजेज              17.64 करोड़

मां लक्ष्मी इंटरप्राइजेज        10.37 करोड़

गणेश ट्रेडर्स                      9.90 करोड़

गणेश ट्रेडर्स                       8.53 करोड़

शिवनाथ कुमार                  1.77 करोड़

एसडीएम इंटरप्राइजेज         6.25 करोड़

विनायक इंटरप्राइजेज           5.76 करोड़

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More