बिहार: नाबालिग लड़की से छेड़खानी कर रहा था झोलाछाप डॉक्टर, परिजनों ने खूंटे से बांधकर की जमकर पिटाई

दरभंगा : बिहार के दरभंगा जिले में एक झोलाछाप डॉक्टर  की बेरहमी से पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. वीडियो कुशेश्वरस्थान थाना इलाके का बताया जा रहा है. वीडियो में झोलाछाप डॉक्टर को खूंटे से बांध कर उसके बाल मूड़े गए और उसे अर्द्धनग्न कर दिया गया. फिर उसकी जमकर पिटाई की गई. इस दौरान उसे गंदी-गंदी गालियां दी गईं. वीडियो वायरल होने के बाद दरभंगा पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.

दरअसल, कुशेश्वर थाना क्षेत्र के आसो गांव निवासी रामउदगार शर्मा का पुत्र राजाबाबू शर्मा (32 वर्ष) (झोलाछाप डॉक्टर) गोड़ा गांव में कुछ दिनों से किराए के कमरा में अपना निजी क्लिनिक खोलकर लोगों का इलाज कर रहा था. ग्रामीणों ने बताया वह प्रत्येक दिन सुबह को अपने घर आसो से आता था और रात को आठ से नौ बजे के बीच वापस अपने गांव लौट जाता था.

मंगलवार की रात उक्त झोला छाप चिकित्सक सुपौल बाजार से लेट में वापस आकर क्लिनिक में ही रूक गया. देर रात को शौच के लिए निकली एक नाबालिग लड़की को मुंह दबाकर सीधे क्लिनिक में ले गया. उसके साथ गलत काम करने की कोशिश करने लगा. लड़की के चीखने-चिल्लाने की आवाज पर घर में सो रहे परिजन उठ कर बाहर आए.बाहर आने पर क्लिनिक के अंदर से लड़की के चीखने की आवाज आई. परिजनों ने क्लिनिक के बंद गेट को खोल कर जब अंदर प्रवेश किया तो राजाबाबू को जबर्दस्ती करते रंग हाथ पकड़ लिया.

लोगों ने युवक को मवेशी के खूंटे में बांध दिया. उसके बाल मूंड दिए और उसे अर्द्धनग्न कर उसकी जमकर पिटाई की. कुछ लोगों ने घर में घुसकर चोरी करने का भी आरोप लगाया हैं. वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि झोलाछाप डॉक्टर का उस नाबालिग लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. दोनों जब क्लीनिक में मिल रहे थे तो उसे रंगे हाथ पकड़ लिया गया. घर में घुस कर चोरी का आरोप लगा कर उसके साथ अमानवीय व्यवहार किया गया.

वहीं कुछ लोगों का यह भी कहना है कि पंचायत के दौरान झोलाछाप डॉक्टर पर 1.65 हजार का जुर्माना भी लगाया गया. उसके बाद युवक को छोड़ा गया. युवक के परिजन व लड़की पक्ष के बीच आपस में बैठकर सुलह हो गई थी. हालाकि इस प्रकरण के बाद किसी ने इस घटना तस्वीरों को वायरल कर दिया.

घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई और गांव में पहुंच कर मामले की जांच-पड़ताल कर रही है. हालांकि अभी तक इस संबंध में किसी भी पक्ष की ओर से कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है. जिस वजह से इस मामले में पुलिस ने अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More