नालंदा: दहेज़ की लालच मे ससुराल वालों ने की हैवानियत की हदे पार; गर्भवती बहू की हत्या कर शव को कई टुकड़ों में काट कर दफनाया

नालंदा : बिहार के नालंदा  जिले में दहेज दानवों ने मानवता को शर्मसार करते हुए दिल दहला देनेवाली वारदात को अंजाम दिया है. ससुराल वालों पर शादी के बाद दहेज और लालच का ऐसा भूत सवार हुआ कि एक साल पहले ब्याह कर लाई गई बहू को ही मौत के घाट उतार दिया. आरोप है कि ससुराल वालों ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए विवाहिता की पहले हत्या की और बाद में शव को कई टुकड़ों में काट कर दफना भी दिया.

पिता की खोजबीन के बाद हत्‍या की सनसनीखेज घटना का खुलासा हुआ. पुलिस ने जमीन में गाड़े गए शव को टुकड़ों में बरामद किया है. जहां से पुलिस को लाश मिली वहां शव को जलाने के भी साक्ष्य मिले हैं.

हिलसा थाना क्षेत्र के नोनिया विगहा गांव में ससुराल वालों ने दहेज न मिलने पर विवाहिता की हत्या की और फिर शव के कई टुकड़े करते हुए उसे दफना दिया. मामले का खुलासा तब हुआ जब परिजनों को जानकारी मिली कि उनकी बेटी ससुराल में नहीं है और उसका मोबाइल भी बंद बता रहा है. परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका हुई तो बेटी काजल की खोजबीन शुरू की गई.

परिजनों ने पुलिस के सहयोग से कई दिनों तक काफी खोजबीन की. इस दौरान हिलसा के नोनिया विगहा के एक खेत में ही जमीन में दफनाया हुआ शव कई टुकड़ों में बरामद किया गया. घटनास्थल से काजल के शव को पेट्रोल छिड़ककर जला देने के भी निशान मिले हैं.

बता दें कि पटना जिले के सलिमपुर निवासी अरविंद सिंह की पुत्री काजल कुमारी की शादी हिलसा थाना क्षेत्र के नोनिया विगहा निवासी जगत प्रसाद के पुत्र संजीत कुमार के साथ 27 जून 2020 को हुई थी. शादी के वक्त संजीत कुमार रेलवे में ग्रुप डी के पद पर कार्यरत थे. उनका हाल में ही टीटीई के पद पर प्रमोशन हुआ था. संजीत का प्रमोशन होते ही दहेज के रूप में चार लाख की और मांग की जाने लगी. मृतका के परिजनों ने बताया कि इसी साल फरवरी में 80 हजार रुपये दे दिए थे फिर भी और राशि न देने पर संजीत कुमार ने ही अपने परिजनों के साथ मिलकर गर्भवती पत्नी काजल की हत्या कर दी.

मामले की तफ्तीश के लिए पहुंचे हिलसा थानाध्यक्ष श्याम किशोर सिंह ने बताया कि फिलहाल मृतका के पिता अरविंद सिंह ने पति संजीत कुमार समेत कुल 5 लोगों पर बेरहमी से काजल की हत्या का मामला दर्ज कराया है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है तथा सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी कर रही है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More