गया में गजब शादी: गांववालो के आतंक से घर की जगह थाने से हुई दुल्हन की विदाई

गया जिले के बोधगया प्रखंड में बुधवार देर रात एक अजीबोगरीब घटना हुई. जान के डर से बगैर शादी की रस्म अदा किए बारातियों को दूल्हा-दुल्हन को लेकर बोधगया थाने की शरण में जाना पड़ा. थाने के अधिकारियों और पुलिसकर्मियों ने बाबुल के घर की भूमिका अदा की और दुल्हन की विदाई दूल्हे के साथ उसके घर के लिए कर दी. फिलहाल, पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है.

इस मामले को लेकर बताया जा रहा है कि बुधवार शाम टिकारी प्रखंड के चइता गांव के रंजन कुमार गुप्ता अपने छोटे भाई की बारात लेकर बोधगया प्रखंड के सिराजपुर गांव आए थे. एक तरफ जयमाल का कार्यक्रम शुरू हुआ और दूसरी ओर DJ की धुन पर डांस. डांस के दौरान गांव के कुछ युवक नशे में धुत होकर डांस के बीच घुस गए और बदतमीजी पर भी उतर गए. यह बात न केवल बारातियों को, बल्कि लड़की पक्ष को भी बुरी लगी.

इस पर दोनों पक्षों ने गांव के लड़कों का विरोध जताया तो वे मारपीट करने लगे. नशे में धुत्त युवकों ने बारातियों और लड़की पक्ष को दौड़ा-दौड़ा कर मारना शुरू कर दिया. इससे लड़की वालों और बाराती पक्ष के बीच अफरातफरी मच गई.

यही नहीं, गांव के लड़के दूल्हे के बहनोई के भाई को ही बंधक बनाकर गांव से दूर नदी किनारे लेकर चले गए. कुछ बारातियों ने नदी की ओर जाकर दुल्हे के बहनोई के भाई को लाने की कोशिश की तो वहां से उन्हें हथियार दिखा कर खदेड़ दिया गया. यह देख बारातियों ने आनन-फानन में जयमाल के स्टेज पर दूल्हे से दुल्हन की मांग में सिंदूर डलवाया और वहां से दूल्हा-दुल्हन को लेकर पैदल ही आधी रात को थाने पहुंच गए. न ही सात फेरे हुए और न ही कन्या दा.। यहां तक कि दुल्हन को भैंसुर (दूल्हे का बड़ा भाई) की ओर से चढ़ाए जाने वाले गहने भी नहीं भेंट किए जा सके. थाने पहुंच कर राजेश ने पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी.

पुलिस तुरंत हरकत में आई और गांव जाकर लोगों को धमकाने के साथ ही कुछ के ऊपर लाठियां भी चटकाईं. इस बीच नशे में धुत युवकों ने दूल्हे के बहनोई के भाई को छोड़ दिया. वह अकेला ही गुरुवार सुबह थका-हारा पैदल ही बोधगया थाना पहुंच गया. साथ ही लड़की पक्ष की महिलाएं भी थाने पहुंची. इसके बाद थाने में ही विदाई के मंगल गीत बजे और दुल्हन को दूल्हे के साथ विदा किया गया.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More