नालंदा: लड़की के अंतरजातीय विवाह करने पर माँ ने रचा खौफनाक षडयंत्र, घर बुलाकर किशोरी की पीट-पीटकर की निर्मम हत्या

नालंदा: हिलसा के चिकसौरा थाना क्षेत्र के पार बिगहा में झूठी सम्मान की खातिर कोचिंग शिक्षक के साथ अंतरजातीय विवाह रचाने वाली किशोरी की पीट-पीटकर हत्‍या कर दी गई. कोचिंग संचालक की भी हत्‍या कर दी जाती. लेकिन एन वक्‍त पर पहुंचकर पुलिस ने 23 वर्षीय नवलेश दास को मुक्‍त कराया. पुलिस इस मामले में मृतका के एक बहनोई हिलसा थाना क्षेत्र के गुलनी गांव निवासी तरुण कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। दूसरा बहनोई भाग निकला.

बताया गया कि कोचिंग क्लास के शिक्षक नवलेश रविदास के साथ भागकर 17 वर्षीय किशोरी ने शादी कर ली थी. उसने मां को मोबाइल पर काल करके शादी की जानकारी दी थी. लड़की का फोन आने के बाद उसकी मां ने दोनों दामाद के साथ मिलकर बेटी और उसके पति की हत्‍या का षडयंत्र रच दिया.

चिकनी-चुपड़ी बातें कर मां ने बेटी को अपने पति के साथ घर बुलाया. नवलेश को भी लगा कि शायद लड़की के मां और स्‍वजन शादी से रजामंद हैं. वे गुरुवार की रात पहुंचे. जैसे ही वे पहुंचे. दोनों पर हमला कर दिया गया. लड़की पर तो उसके स्‍वजन काफी आक्रोशित थे. पिटाई से लड़की ने वहीं दम तोड़ दिया. इधर नवलेश की चीख-पुकार सुनकर पड़ोस के लोग जुट गए. किसी ने पुलिस को खबर दे दी. समय रहते थाना पुलिस भी पहुंच गई . थानाध्यक्ष ने न सिर्फ नवलेश की जान बचाई बल्कि हत्यारोपित मृतका के बहनोई को गिरफ्तार भी कर लिया. 

बताया गया कि जहानाबाद जिला के ओकरी थाना क्षेत्र पितांबरपुर गांव निवासी नवलेश मोची ने मंडाछ गांव में कोचिंग खोला था. लड़की वहीं इंटरमीडिएट की पढ़ाई करने जाती थी. इसी क्रम में नवलेश और लड़की में प्रेम हो गया. दोनों ने बीते 18 जून को घर से भाग कर शादी रचा ली. लड़की की मां ने नवलेश के खिलाफ 26 जून को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

इधर लड़की ने अपनी मां को बताया कि उसने अपनी मर्जी से शादी की है. तब लड़की की मां ने गुरुवार को उसे पति के साथ यह कहकर बुलाया कि अब दोनों को कुछ दिन बाद यहां से अच्छे से विदाई कर दी जाएगी. साथ में सामाजिक स्वीकृति भी दिला दी जाएगी. इसी झांसे में दोनों घर पहुंच गए. थानाध्यक्ष प्रकाश लाल ने बताया कि इस मामले में तीन बदमाशों को नामजद किया गया है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More