STET रिजल्ट में गड़बड़ी के विरोध में शिक्षा मंत्री के घर के सामने अभ्यर्थियों ने किया हंगामा, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

पटना: बिहार की राजधानी पटना से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां STET के छात्रों पर लाठीचार्ज किया गया है. मंगलवार को पटना में बड़ी संख्या में अपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री के आवास का घेराव करने पहुंचे थे. हाथों में बैनर पोस्टर लेकर ये छात्र जब ईको पार्क के पास पहुंचे तो पुलिस ने इन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन ये छात्र नहीं माने और सचिवालय के सामने सड़क पर बैठ गए. पुलिस ने उन्हें समझाया की इस इलाक़े में धरना प्रदर्शन की इजाजत नहीं है बाबजुद छात्र नहीं माने जिसके बाद पुलिस को इन छात्रों पर लाठीचार्ज किया.

बताया जाता है कि एसटीईटी अभ्‍यर्थी शिक्षा मंत्री के आवास पर घेराव करने जा रहे थे. राजधानी वाटिका (Eco Park) के पास मौजूद पुलिस ने उन्‍हें रोकने का प्रयास किया. तब वे वहीं धरना पर बैठ गए. पु‍लिस ने समझाने का प्रयास किया कि यह प्र‍तिबं‍धित क्षेत्र है. ले‍किन मामला नहीं सलटा. इसके बाद दोनों में झड़प हो गई. स्थिति बेकाबू होता देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इसके बाद प्रदर्शनकारियों की भीड़ तितर-बितर हुई. काफी देर तक राजधानी वाटिका के पास अफरातफरी की स्थिति बनी रही.

प्रदर्शनकारी शिक्षकों का कहना था कि जिस तरह पूर्व के एसटीइटी अभ्यर्थियों को छठे चरण के नियोजन में शामिल होने का मौका दिया जा रहा है उसी तरह उन्हें भी मिले. लेकिन सरकार नवंबर तक आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को ही छठे चरण में नियोजन का मौका दे रही है. नवंबर के बाद आवेदन करने वाले एसटीईटी अभ्यर्थियों को छठे चरण के नियोजन में मौका नहीं मिलेगा.

अपने को नियोजन में शामिल करने के लिए अभ्यर्थियों का जमावड़ा सुबह से ही शिक्षा मंत्री के आवास के पास होने लगा था. शुरू में प्रशासन के अधिकारियों ने अभ्यर्थियों को समझाने की कोशिश की लेकिन अभ्यर्थियों की संख्या  लगातार बढ़ती गई हंगामा ना रुकने पर पुलिस ने लाठी चार्ज कर दिया. 

सचिवालय थानाध्यक्ष का कहना है कि हंगामे की सूचना पर पुलिस ने करवाई कर छात्रों को शिक्षा मंत्री के आवास से हटाया. हंगामा समाप्त हो चुका है. पुलिस हंगामा करने वालों पर कार्रवाई करेगी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More