बिहार: शिवहर के डीएम पर उनकी पत्नी ने दहेज प्रताड़ना और घरेलू हिंसा का लगाया आरोप, मुजफ्फरपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज

मुजफ्फरपुर: बिहार में शिवहर के डीएम सज्जन राजशेखर पर उनकी पत्नी ने दहेज प्रताड़ना और घरेलू हिंसा को लेकर मुजफ्फरपुर के नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है. नगर थानाध्यक्ष ओमप्रकाश ने बताया कि कांड दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है. प्राथमिकी में डीएम की पत्नी ने बताया है कि उनके पति दहेज के लिए उनको प्रताड़ित व मारपीट करते हैं. इतना ही नहीं तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर उनके पति उन्हें पागल करने में लगे हैं. कहा कि एक मार्च को उनके साथ बर्बरता ढंग से मारपीट की गई. उनकी तीन साल की बेटी को उनसे अलग कर दिया गया.

प्राथमिकी में आरोप लगाया गया कि डीएम ने उनके छोटे बच्चे को अपने कब्जे में रखा है, जो कि नियम के विरुद्ध है. पति की प्रताड़ना व गुस्सैल रवैये के कारण वे उनके पास जाने से डरती हैं. मामले में करीब तीन माह पहले पति के बर्बरतापूर्ण व्यवहार को लेकर उन्‍होंने राज्य के वरीय पुलिस अधिकारियों को आवेदन देकर मामले से अवगत कराया था. मगर पद का दुरुपयोग कर उनके पति ने मामले को दबा दिया. इस बीच वे वर्तमान में अपनी मां के साथ मुजफ्फरपुर के मजिस्ट्रेट कॉलोनी स्थित क्वार्टर में रहने लगे.

पत्‍नी का दावा है कि 15 जून को उनके एक साल के बेटे का जन्म दिन था. इसमें उनके पति शिवहर डीएम आए. उन्हें रुकने को कहा गया, मगर वे रुके नहीं. साथ ही तीन साल की बेटी को जबरन लेकर चले गए, जबकि बच्ची चिल्लाती रही. पीड़िता का कहना है कि उनकी मां ने बच्ची को रोकने की कोशिश की तो पति ने धक्का देकर उन्हें गिरा दिया गया. इसमें वे घायल हो गईं. इसकी तस्वीर भी पुलिस को दी गई है. पीड़िता ने कहा कि उनके पति पद का दुरुपयोग कर उन्हें फंसाने की धमकी देते हैं.

पीड़िता का कहना है कि उनहोंने व्हाटसअप पर चैटिंग व तस्वीर को साक्ष्य के तौर पर रखा गया है. आगे कहा कि पति के प्रताड़ना के कारण वे कोर्ट में गुजारा भत्ता के लिए केस फाइल कर चुकी हैं. कहा कि बच्चों के अभिरक्षा के लिए अगले सप्ताह में हाईकोर्ट में याचिका दायर करेंगी. नगर डीएसपी रामनरेश पासवान ने बताया कि शिवहर डीएम के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है. पीड़िता के बयान के साथ सभी बिंदुओं पर जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

शिवहर डीएम सज्जन राजशेखर ने कहा कि, उनके खिलाफ दर्ज की गई प्राथमिकी झूठी है. वो पैसा चाहती है। लेकिन, साथ रहना नहीं चाहती है. पहले से कोर्ट में तलाक का मामला दर्ज है. 15 जून को अपने बेटे के पहले जन्मदिन पर मुजफ्फरपुर गया था. जहां उनके साथ मारपीट की गई. वहीं उन लोगों द्वारा दहेज का झूठा केस दर्ज करा दिया गया. मकसद पैस लेना, परेशान और बदनाम करना है. डीएम ने कहा कि, वह शिवहर में काम करने आए है. काम कर रहे है. कानून पर पूरा विश्वास है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More