नवादा: 16 वर्षीया किशोरी को अगवा कर बदमाशों ने चार दिनों तक किया यौन शोषण, आरोपी फरार

नवादा जिले के पकरीबरावां थाना क्षेत्र के एक गांव से तीन जून को 16 वर्षीया किशोरी को अगवा कर लिया गया. फिर, उसे नवादा ले जाकर एक ठिकाने पर रखा गया और चार दिनों तक यौन शोषण किया गया. मामले की प्राथमिकी दर्ज होने की खबर के बाद पीडि़ता को छह जून का अपहर्ता ने नवादा स्टेशन पर छोड़ दिया. जानकारी के बाद पुलिस पीडि़ता को अभिरक्षा में लेकर चिकित्सीय जांच कराई। साथ ही उसका बयान कोर्ट में कलमबंद कराया है. आरोपित फरार चल रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पीडि़ता के अनुसार 3 जून की सुबह शौच के घर से निकली थी. रास्ते में ही  नवल ठाकुर का पुत्र मोनू ठाकुर अपने एक साथी के साथ भय दिखाकर बाइक से अगवा कर लिया. उसे नवादा के गोंदापुर गांव ले जाया गया. जहां एक घर में बंद कर 4 दिनों तक जबरन शारीरिक संबंध बनाता रहा.

इस बीच प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस द्वारा मामले की जांच शुरू की गई. तब 6 जून को नए नंबर से परिजन से बात करवाकर पीडि़ता को नवादा स्टेशन पर होने की सूचना दी. तब परिजन नवादा पहुंचकर बच्ची को बरामद कर पकरीबरावां थाना लेकर पहुंचे. पुलिस ने सात जून को मेडिकल करवाकर आठ जून को 164 का बयान के लिए उसे न्यायालय में उपस्थित कराया. पीडि़त नाबालिग ने न्यायालय को बताया कि मोनू समेत दो लोगों ने मिलकर भय दिखाकर बाइक पर बैठने के लिए मजबूर किया.

पीडि़त नाबालिग ने न्यायालय को बताया कि मोनू समेत दो लोगों ने मिलकर पिस्टल का भय दिखाकर बाइक पर बैठने के लिए मजबूर किया. उसे नवादा के गोंदापुर गांव अवस्थित मुसाफिर चौधरी के मकान के एक कमरे में बंद कर दिया गया था. मेरी देख-रेख में एक पूजा नाम की लड़की को लगा दिया था. मेरा मोबाइल को भी छीन लिया था. जब उसे पता चला कि मेरे पिता जी थाना में प्राथमिकी दर्ज करा दिए हैं और मैं नाबालिग हूं तब मोनू ने कहा कि शादी तो नहीं हो सकती है,परन्तु शारीरिक संबंध तो हो ही सकता है. वह मेरे साथ लगातार जबरदस्ती संबंध स्थापित करता और फिर वहां से चला जाता.

जाते-जाते पिस्टल को दिखाकर कहता कि इसकी किसी को भी जानकारी नहीं देना, और उस घर मे मौजूद पूजा के जिम्मे कर देता. 6 जून को वह एक नए सिम से पापा से बात करने को कहा कि मैं नवादा स्टेशन पर हूं, आकर हमें ले जाएं. इतना कहकर वह घर में रह रही पूजा नाम की लड़की को साथ कर दिया. घर से निकलने के पूर्व वह मेरे साथ फिर जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया था.

इस बाबत पकरीबरावां थानाध्यक्ष नागमणि भाष्कर ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट आते ही अभियुक्तों की गिरफ्तरी के लिए छापेमारी की जाएगी. किसी भी हाल में आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More