झारखंड में 3 जून तक के लिए बढ़ा लॉकडाउन, ई-पास सबके लिए अनिवार्य नहीं

झारखंड में मिनी लाॅकडाउन यानी स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि चौथी बार बढ़ी है. अब आगामी 3 जून तक राज्य में मिनी लॉकडाउन जारी रहेगा. इस दौरान आवश्यक वस्तुओं को छोड़ पूर्व की पाबंदी जारी रहेगी. वहीं, अब दोपहर 2 बजे तक ही सचिवालय खुले रहेंगे.

बता दें कि राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह की अवधि चौथी बार बढ़ायी गयी है. राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को 22 अप्रैल से 29 अप्रैल, 2021 को पहली बार लागू किया गया था. इसके बाद दूसरी बार 13 मई तक लागू किया गया. वहीं, तीसरी बार इसे 27 मई तक बढ़ाया गया. इसके बाद अब आगामी 3 जून, 2021 तक स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह यानी मिनी लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया गया.

सरकार ने इस बार कई रियायतें भी दी हैं. इन रियायतों में सबसे बड़ा लाभ कृषि सेक्टर को मिला है. किसानों को बाजार तक अपना उत्पाद लेकर जाने के लिए अब ई-पास की कतई जरूरत नहीं है. इससे किसान अपने उत्पाद, सब्जियां आदि लेकर सीधे बाजार पहुंच सकते हैं.

किसानों के अलावा मीडिया कर्मियों, कोर्ट के कार्य से निकलनेवाले लोगों, उद्योगों और खान में काम करनेवाले लोगों और सरकारी कर्मियों को ई-पास बनवाने की दरकार नहीं होगी.

राज्य मुख्यालय में फिलहाल गृह विभाग, आपदा प्रबंधन, वन विभाग, ग्रामीण विकास विभाग जैसे दफ्तर ही खुले हुए थे लेकिन अब सरकार की अधिसूचना के साथ ही सभी सरकारी दफ्तर खुल जाएंगे. राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि दफ्तरों में एक तिहाई से अधिक कर्मियों को नहीं बुलाया जाएगा. सभी विभागीय प्रमुख रोस्टर के हिसाब से कर्मियों को कार्यालय में तलब करेंगे. प्राइवेट सेक्टर के लिए अभी कोई रियायत नहीं दी गई है.

बाजार और उपभोक्ताओं को अभी अधिक रियायतें नहीं दी गई हैं. कृषि उत्पादकों को छोड़कर अन्य सभी प्रकार के बाजार और उपभोक्ताओं के लिए दोपहर दो बजे तक ही कारोबार का वक्त होगा. यह व्यवस्था अभी भी चल रही है। जो दुकानें खुली हैं, वह खुली रहेंगी और जिन्हें बंद रखने के लिए कहा गया है, उनके लिए अगले एक सप्ताह में कोई राहत नहीं है. स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह पर सरकार का यह फैसला बुधवार की सुबह तक सबके सामने होगा और मंगलवार की देर रात अथवा बुधवार को इसकी अधिसूचना जारी होगी. फिलहाल, 27 मई की सुबह 6 बजे तक पिछला फैसला असरदार रहेगा.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More