बिना दहेज, बिन बाराती अकेले साइकिल चलाकर शादी करने पहुंचा दूल्हा, लॉकडाउन में युवक ने पेश की मिसाल, BDO ने किया पुरस्कृत

बांका: जिले के शंभूगंज के एक युवक ने आदर्श शादी की है, जिसकी चर्चा पूरे इलाके में है. यहां के गौतम कुमार बिना दहेज और बिन बाराती के अकेले साइकिल से शादी करने चले गए. युवक की इस आदर्श शादी से खुश होकर शंभूगंज BDO प्रभात रंजन शनिवार को उचागांव पहुंचे, जहां उन्होंने नवविवाहिता दम्पती गौतम कुमार व कुमकुम कुमारी को आशीर्वाद और नकद रुपए देकर पुरस्कृत किया.

बता दें कि भरतशिला पंचायत के कंचन नगर गांव के ब्रह्मदेव तांती की पुत्री कुमकुम कुमारी की शादी सुल्तानगंज प्रखंड क्षेत्र के उचागांव के अनिल तांती के पुत्र गौतम कुमार से दो वर्षो से तय होने का सिलसिला चल रहा था. जहां पिछले वर्ष भी कोरोना ने दोनों की शादी पर पानी फेर दिया. फिर इस वर्ष जैसे ही दोनों की शादी की तय होने का तैयारी शुरू हुआ था कि फिर कोरोना ने दोनों की शादी को रोक दिया.

जिसके बाद गौतम कुमार ने इस लॉकडाउन में बिना दहेज और बिना बारात की शादी करने की ठान ली. गौतम कुमार के परिवार और गांव के ग्रामीण कुछ समझ पाते, इससे पहले ही गौतम कुमार ने सेहरा बांधकर साइकिल से ही दूल्हा बनकर वधु के द्वार भरतशिला पंचायत के कंचन नगर पहुंच गया. जहां वधु पक्ष के लोगों ने उसका गर्म जोशी के साथ स्वागत कर शादी कराकर दोनों को विदाई दी.

शंभूगंज बीडीओ प्रभात रंजन ने नव विवाहित जोड़ी गौतम कुमार और कुमकुम कुमारी आदर्श विवाह की सराहना करते हुए उसके घर उचागांव बधाई देने पहुंचे. जहां नव दंपत्ति को बधाई और आर्शीवाद के साथ-साथ नकद रुपये देकर पुरस्कृत कर समाज के लोगों को ऐसी शादी से सीख लेने की बात कही. साथ ही बीडीओ प्रभात रंजन ने मुख्यमंत्री विवाह योजना का लाभ दिलाने की बात कही.

वहीं सीओ अशोक कुमार सिंह, थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद, बीपीआरओ संजीत कुमार ने भी फोन पर नव विवाहित दंम्पत्ति से बात कर दोनों को ऐसी शादी करने के लिए बधाई दी. सभी पदाधिकारियों ने बताया कि ऐसी शादी से अन्य गांव समाज के लोगों को सीख लेकर खर्चीला और बिना दहेज के शादी करने के लिए जागरूक होना चाहिए.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More