मुंगेर: गंगा में डूबी ओवरलोडेड नाव, 50 से ज्यादा लोग थे सवार, राहत और बचाव कार्य जारी

बिहार के मुंगेर जिले में बड़ा हादसा हो गया जब एक ओवरलोडेड नाव गंगा नदी में पलट गई. इस हादसे में नाव पर सवार लोगों को बचा लिया गया है मगर दो बच्चे अबतक लापता बताए जा रहे हैं. 

जानकारी के अनुसार, नाव मुफस्सिल थाना क्षेत्र के भेलवा दियारा से बरदह घाट आ रही थी. इस  नाव पर 50 से अधिक किसान के साथ दो ट्रैक्टर, 6 घोड़ा घोड़ी और भारी मात्रा में अनाज लदे थे. तभी बरदह घाट से पहले नाव में पानी भरने लगा. पानी भरते ही नाव पर लदा सामान सरकने लगा और नाव डूबने लगी. अचानक नाव पर अफरातफरी मच गई. लोगों ने मदद के लिए चिल्लाना शुरू किया.  लोग जान बचाने के लिए पानी में कूद पड़े. घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया. शोर-शराबा सुनकर आसपास के तैराकों ने गंगा नदी में कूदकर लोगों को बाहर निकला.

इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस-प्रशासन मौके पर पहुंची. पुलिस ने मामले की जांच में जुट गई है. नाव नदी में कैसे डूबी इसकी जांच कर रही है. नाविक से भी पुलिस पूछताछ कर रही है.

घटना के संबंध में अंचलाधिकारी ने बताया कि दो बड़े-बड़े नावों को जोड़कर बरनैया नाव बनाया गया था. लगभग सवा 6 बजे शाम में किसान कटनी कर अनाज के साथ नाव पर सवार होकर लौट रहे थे. तभी बीच गंगा में नाव डूब गई और एक बड़ा हादसा हुआ. लगभग एक दर्जन नाव राहत एवं बचाव कार्य के लिए उन लोगों के पास पहुंचा था. जिसमें लगभग किसान और मजदूर सवार होकर किनारे पहुंचे हैं. उन्होंने कहा कि खुद वे घटनास्थल पर कैम्प किए हुए हैं. अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.

ग्रामीणों के अनुसार नाव पर महिला और बच्चे समेत करीब 50 से अधिक लोग सवार थे, जबकि 2 ट्रैक्टर, 4 बाइक और 170 बोरा अनाज भी लदे थे. लोगों का कहना है कि नाव काफी बड़ी थी. लोगों का कहना है कि नाव पहले से ही क्षतिग्रस्त थी, इसलिए डूब गई. प्रशासन इस मामले को गंभीरता से और नाविक पर कार्रवाई करे.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More