उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री के रूप में तीरथ सिंह रावत ने ली शपथ, कहा- मैंने इतनी बड़ी जिम्मेदारी की कभी कल्पना नहीं की थी

देहरादून:  त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफा देने के बाद तीरथ सिंह रावत ने उत्तराखंड के 10वें मुख्यमंत्री के रूप में पद की शपथ ग्रहण कर ली. राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. आज केवल मुख्यमंत्री के रूप में तीरथ सिंह रावत को ही शपथ दिलाई गई. शपथ ग्रहण के अवसर पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, निवर्तमान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में देहरादून आए भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह, प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत, सांसद अजय भट्ट, अजय टम्टा, महारानी माला राज्यलक्ष्मी शाह, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल आदि शामिल थे.

इस मौके पर तीरथ सिंह रावत ने कहा कि वह जनता के विश्वास पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे.

सीएम पद की जिम्मेदारी मिलने के बाद तीरथ सिंह रावत ने कहा मैं पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी का शुक्रिया अदा करता हूं, जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया. ‘मैंने कभी कल्पना भी नहीं की थी.मैं गांव से आया हुआ एक छोटा सा कार्यकर्ता हूं, मैंने कभी कल्पना नहीं की थी. जनता के विश्वास पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करूंगा.’

रावत ने कहा कि वह संघ के लिए काम करते थे. कभी भी राजनीति में आने के बारे में नहीं सोचा था. बाद में अटल बिहारी वाजपेयी से प्रेरणा लेकर वे आगे बढ़े. उन्होंने कहा कि वे त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ लंबे वक्त तक काम करते रहे हैं, पहले संघ में बतौर प्रचारक भी काम किया और उसके बाद पार्टी और सरकार के स्तर पर साथ में काम किया है. अभी भी वे उनके मार्गदर्शन में आगे काम करते रहेंगे.

गौरतलब है कि त्रिवेंद्र सिंह रावत के खिलाफ लंबे समय से बीजेपी के अंदर ही विरोध के स्वर उठ रहे थे. बीजेपी के विधायक ही अपने मुक्यमंत्री से नाराज थे, जिसके चलते पार्टी हाईकमान को आखिरकार नेतृत्व परिवर्तन करना पड़ा और त्रिवेंद्र सिंह रावत की जगह अब तीरथ सिंह रावत को उत्तराखंड का मुख्यमंत्री बनाया गया है.

बता दे कि तीरथ सिंह रावत वर्ष 2000 में नवगठित उत्तराखंड के पहले शिक्षा मंत्री चुने गए थे. इसके बाद 2007 में भाजपा उत्तराखंड के प्रदेश महामंत्री चुने गए. 2013 उत्तराखंड दैवीय आपदा प्रबंधन सलाहकार समिति के अध्यक्ष रहे. वर्ष 2012 में चौबटाखाल विधानसभा से विधायक निर्वाचित होकर तीरथ सिंह रावत 2013 में उत्तराखंड भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बने पौड़ी सीट से भाजपा के उम्मीदवार के अतिरिक्त 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें हिमाचल प्रदेश का चुनाव प्रभारी भी बनाया गया था.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More