कोरोना को लेकर AIIMS डायरेक्टर गुलेरिया ने दी चेतावनी: नया स्ट्रेन महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में आ चुका है, बेवजह यात्रा करने की भूल न करें

देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने एक बार फिर से कोरोना को लेकर बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा है कि कोरोना के मामलों में कमी आने से लोग बेपरवाह न हों. यह हिदायत दिल्ली AIIMS के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने दी है. जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में ‘इंडियाज फाइट अगेंस्ट द कोविड’ सेशन में उन्होंने कहा कि बेवजह यात्रा करने की भूल न करें, क्योंकि नया स्ट्रेन महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में आ चुका है. यह फेस्टिवल वर्चुअली चल रहा है.

डॉ. गुलेरिया ने कहा, ‘कोरोना खत्म नहीं हुआ है. वैक्सीन के बाद कुछ बचा सकता है तो एहतियात. मास्क तो है ही, लेकिन स्वच्छता, सोशल डिस्टेंसिंग, आइसोलेशन जैसी आदतों को जारी रखना होगा. ब्राजील में 70% लोग कोरोना से सुरक्षित हो गए थे, लेकिन उन्हें यह बीमारी फिर हो रही है. दरअसल, जो एंटीबॉडी बनी वह बहुत पॉवरफुल नहीं है.

उन्होंने कहा कि हर्ड इम्युनिटी को लेकर लोगों को अपनी सोच बदलनी होगी। चिंता करने वाली बात यह है कि इसे (हर्ड इम्युनिटी) पूरी तरह पाना संभव नहीं है. इसे प्रैक्टिकल लाइफ में भारत जैसे देश में सोचना मुश्किल है वह भी जब यहां पर कोरोना के अलग-अलग स्ट्रेन परेशानी का सबब बन रहे हैं.

बता दें कि भारत में कोरोना के केस में बढ़ोतरी देखी जा रही है. देश के पांच राज्यों में महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और पंजाब में केस बढ़ रहे हैं. वहीं दिल्ली में भी बीते कुछ दिनों से केस बढ़ रहे हैं. हालांकि यहां पर अभी भी मामला चिंताजनक नहीं है. इधर, महाराष्ट्र के केस बढ़ते ही अमरावती में लॉकडाउन लगा दिया गया है. पुणे में स्कूल कॉलेज बंद कर दिया गया है. सरकार नाइट कर्फ्यू लगाने पर विचार कर रही है. देश में कोरोना के नए स्ट्रेन से टेंशन बढ़ने लगी है. ऐसे में यह ज्यादा संक्रामक हो सकता है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More