नौकरी के नाम पर डॉक्टर ने नाबालिग से किया दुष्कर्म का प्रयास, लड़की ने सबके सामने चप्पल से पीटा

दरभंगा: बिहार के दरभंगा में एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के प्रयास का मामला सामने आया है, जहां लड़की ने खुद ही आरोपी की पोल खोल दी.मामले में डॉक्टर पर आरोप है कि अपने निजी क्लिनिक पर एक नाबालिग के ऊपर दुष्कर्म का दबाब बना रहा था और नाबालिग से 60 हजार रुपये नौकरी के नाम पर लिया था.

घटना दरभंगा के केवटी थाना की है, जहां केवटी पीएचसी में कार्यरत डॉ. रंजन को केवटी पुलिस ने छेड़खानी के आरोप में गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि केवटी पीएचसी में कार्यरत नेत्र विभाग के डॉ रंजन अपना एक प्राइवेट क्लिनिक भी चलाता है. उनके ऊपर उनके यहां काम करने वाली एक महिला कर्मचारी ने बंद कमरे में छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए चप्पल से पिटाई कर दी.

पीड़िता का कहना है कि 2 महीने से वह आरोपी डॉक्टर रंजन के क्लिनिक में काम कर रही है. डॉक्टर उसके साथ अक्सर गलत तरीके से स्पर्श करता है. वह बार-बार अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा देकर गलत काम करने की कोशिश करता था. कमरे का दरवाजा बंद कर अश्लील हरकत करने की कोशिश करता है. रविवार को भी डॉक्टर ने ऐसा ही करने की कोशिश की लेकिन पीड़िता चिल्लाने लगी. जिसके बाद वहां आसपास मौजूद लोग एकत्रित हो गए.और चक्षु सहायक को लड़की सहित अन्य लोगों ने जमकर पीटा.

स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना केवटी पुलिस को दिया है. सूचना पाकर केवटी थानाध्यक्ष शिव कुमार यादव ने दलबल के संग मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया और दोनों को हिरासत में लेकर केवटी थाना ले आयी.

इधर, आरोपी चक्षु सहायक डॉक्टर रंजन ने कैमरे पर बताया कि नौकरी के नाम पर 30 हजार रुपये लिये हैं लेकिन ये मेरी बेटी के समान है. इसके साथ दुष्कर्म का प्रयास करने का आरोप सरासर गलत है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More