नशेड़ियों को रोकना माँ-बेटे को पड़ गया महंगा: घर के सामने शराब पीने से रोका तो मां-बेटे को ईंट से कूच डाला, मां की मौत, बेटे की हालत गंभीर

औरंगाबाद के हसपुरा में घर के सामने शराब पीने से रोका तो मां-बेटे को ईंट से कूच डाला. हादसे में मां की मौत हो गई जबकि बेटे की हालत गंभीर है. उसे गया रेफर किया गया है. मौत से आक्रोशित लोगों ने शहीद जगदेव चौक स्थित पचरुखिया मोड़ को जाम कर दिया है. वे आगजनी कर प्रदर्शन कर रहे हैं. इससे हसपुरा-गया-औरंगाबाद पथ पर यातायात बुरी तरह बाधित हो गया है.

मृतक की पहचान हैबसपुर निवासी जुगेश्वरी देवी (65 साल) जबकि घायल की पहचान अमित प्रजापति के रूप में की गई है. घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस वहां पहुंची है और लोगों को समझाने-बुझाने का प्रयास कर रही है.

हसपुरा के हैसबपुर में जुगेश्वरी देवी के घर के सामने बगीचे में नशेड़ियों का जमावड़ा लगता है. देर रात शराब पीकर हंगामा मचाने से परेशान होकर मां-बेटे ने इसका विरोध किया था. इसी का अंजाम जुगेश्वरी देवी को भुगतना पड़ा. जुगेश्वरी देवी के भतीजे कामेश्वर ने बताया कि बगीचे में लोग जुआ खेलते थे और शराब पीकर हंगामा भी करते थे.

शुक्रवार देर रात जब अमित प्रजापति और उसकी मां ने इसका विरोध किया तो नशेड़ी घर के अंदर घुस आए और ईंट से उन्हें पीटना शुरू कर दिया. दोनों को नशेड़ियों ने इतना पीटा कि वे अधमरे हो गए. जुगेश्वरी देवी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अमित को नाजुक हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पचरुखिया से हसपुरा थाना महज 4 किमी दूर है, बावजूद इसके पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची है। हत्या को लेकर लोगों में आक्रोश है. उन्होंने पिकअप, ट्ऱॉली, ट्रक लगाकर शहीद जगदेव चौक स्थित पचरुखिया मोड़ को जाम कर दिया. हजारों की संख्या में यहां लोग जुटे हुए हैं और शव के साथ प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शन कर रहे सामाजिक कार्यकर्ता नागेंद्र सिन्हा ने कहा कि आज किसी हाई प्रोफाइल व्यक्ति की हत्या होती तो यहां पुलिस-प्रशासन जुट जाती. यहां ईंट से कूचकर हत्या हो गई है और पुलिस अब तक नहीं पहुंची है. हमलोगों की मांग है कि हत्या में संलिप्त लोगों की गिरफ्तारी हो. स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस ही इन नशेड़ियों की मदद करती है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More