नवादा: निजी क्लीनिक में ऑपरेशन के बाद महिला की मौत, घटना के बाद क्लीनिक छोड़ डॉक्टर हुए फरार

नवादा जिले से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां मेसकौर प्रखंड मुख्यालय में स्थित मां किलनिक में यूटरस के ऑपरेशन के कुछ घंटे बाद मरीज की मौत हो गयी. घटना के बाद परिजन आक्रोशित हो गए. मौका पाकर चिकित्सक एवं अन्य कर्मी क्लीनिक छोड़कर फरार हो गया.

बताया जाता है कि सिरदला प्रखंड के रतनपुर ग्राम निवासी शंकर प्रसाद यादव की पत्नी रेनू देवी शुक्रवार को एक बजे दिन में मां किलनिक मेसकौर में बच्चेदानी के ऑपरेशन संबंधित एडमिट कराया गया, 2 बजे उसे ऑपरेशन के लिए ओटी रूम में ले जाया गया,जिसके बाद 3 बजे ऑपरेशन कर पेसेंट को बाहर निकाला गया. उसके बाद 5 बजे शाम से रेनू देवी को तकलीफ एवं बेचैनी  होने लगा. बेचैनी की खबर परिजनों के द्वारा डॉक्टर को दिया गया. लेकिन डॉक्टरों ने उनकी बातों को अनसुनी करते हुए खुद से इलाज करते रहे और कहीं दूसरे जगह रेफर नहीं किया. अंततः 2 बजे रात को रोगी रेनू देवी की मृत्यु हो गई.

तब से झोलाछाप डॉ. गोपाल प्रसाद सहित अस्पताल से सभी कार्यरत कर्मी फरार हो गया. परिजनों ने बताया कि मृतक 25 वर्षीय रेनू देवी के तीन बच्चे हैं, इसमें दो बेटी और एक बेटा है. मृतक के परिजनों ने कहा कि यह घटना डॉक्टर की लापरवाही की वजह से हुआ है. हम लोग इलाज हेतु नवादा ले जाने के लिए प्रयास करते रहे ,परंतु डॉ. गोपाल प्रसाद ने बोला सब ठीक है, ठीक हो जाएगा. अंततः हमारे परिवार की मृत्यु हो गई.

सूचना पाकर मेसकौर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नवादा भेज दिया. मेसकौर थाना अध्यक्ष नीरज कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल नवादा  भेज दिया गया. और कहा प्राथमिकी दर्ज होने के बाद उचित करवाई किया जाएगा.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More