हिमाचल: कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाने के 10 दिन बाद IGMC के 3 डॉक्टर पॉजिटिव

शिमला: कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीन की पहली डोज लगाने के बाद इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज (आईजीएमसी) अस्पताल शिमला के तीन डॉक्टर पॉजिटिव निकले हैं. वैक्सीन लगने के करीब दस दिन बाद इनमें कोरोना के लक्षण दिखे. इस पर तीनों का कोरोना टेस्ट करवाया गया, जिसमें रिपोर्ट पॉजिटिव आई. एहतियातन तीनों को होम आइसोलेट कर दिया गया है. इससे पहले वैक्सीन लगने के बाद तीनों डॉक्टर अस्पताल भी आते रहे हैं.

बताया जा रहा है कि ड्यूटी के दौरान तीनों डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आ गए. इनमें एक चिकित्सक दंपती है. आईजीएमसी के प्राचार्य डॉ. रजनीश पठानिया ने कहा कि तीनों पॉजिटिव डॉक्टरों को होम आइसोलेट किया गया है. हालांकि कोरोना वैक्सीन की पहली डोज की अवधि इन्होंने पूरी नहीं की थी. इन्हें दूसरी डोज दी जानी थी, लेकिन इससे पहले ही ये संक्रमित हो गए.

हिमाचल में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हुआ है. पहले चरण में 45 हजार स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीनेट किया गया था. अब दूसरे चरण में 15,943 हजार के करीब फ्रंटलाइनर्स को टीका लगाया गया है. दो दिन पहले ही हिमाचल में कोरोना वैक्सीन के 1.83 लाख डोज पहुंचे हैं.

हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को एक कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हुई है. कांगड़ा में 64 वर्षीय संक्रमित बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया प्रदेश में 13 और शिक्षकों समेत 37 लोगों कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. मंडी जिले में 15, कांगड़ा चार ,शिमला सात, ऊना चार, बिलासपुर पांच, सोलन और चंबा जिले में एक-एक नया मामला आया है. प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 58142 पहुंच गया है. सक्रिय मामले 505 हैं. अब तक 56647 संक्रमित ठीक हो चुके हैं और 978 की मौत हुई है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More