Weather Alert: बिहार में हाड़ कंपाने वाली ठंड से राहत नहीं, दो फरवरी तक औरेंज अलर्ट जारी

बिहार के लोगों को फिलहाल ठंड से राहत मिलती नहीं दिख रही है. राज्य के अधिकतर हिस्से कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं. मौसम विभाग ने सूबे में दो फरवरी तक औरेंज अलर्ट जारी कर लोगों को सचेत रहने की अपील की है. मौसमविदों के मुताबिक अगले दो तीन दिनों तक सूबे में मौसम की यही स्थिति रहने वाली है.

मौसम विभाग ने सूबे में दो फरवरी तक औरेंज अलर्ट जारी कर लोगों को सचेत रहने की अपील की है. घर से बाहर जा रहे लोगों को ऊनी और गर्म कपड़े पहनने की सलाह दी गई है. लोगों से बेवजह घर से बाहर न निकलने की अपील की गई है.

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विवेक सिन्हा के मुताबिक औरेंज अलर्ट येलो अलर्ट से बाद और रेड अलर्ट से पहले की बीच की स्थिति है. औरेंज अलर्ट का सीधा मतलब है ठंड खतरनाक स्थिति की ओर बढ़ रहा है और ठंड से बचाव की तैयारी बेहद जरूरी है. बिहार के पश्चिमी भाग में पूर्वी भाग की अपेक्षा ठंड ज्यादा रहेगी. इससे पहले शनिवार को दोपहर बाद निकली धूप ने लोगों को ठंड से थोड़ी राहत दी है.

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार उत्तर पश्चिम दिशा से आ रही तेज रफ्तार हवाओं के बहने से कहीं शीत दिवस तो कहीं शीत लहर के हालात बने हैं. पटना, मुजफ्फरपुर और छपरा में पिछले 24 घंटे में गंभीर शीतदिवस की स्थिति रही.

गया और भागलपुर को न्यूनतम तापमान सामान्य से काफी नीचे रहने की वजह शीतलहर से प्रभावित क्षेत्र घोषित कर दिया गया है. अधिकतर जिलों में अधिकतम या न्यूनतम पारा सामान्य से आठ से 11 डिग्री तक नीचे चला आया है. सूबे के शेष भाग में में कोल्ड डे जैसे हालात बनने से जनजीवन पर काफी असर पड़ा है. आम लोग के साथ साथ पशु पक्षी भी बेहाल हैं.

इन जिलों में ठंड के हालात (डिग्री सेल्सियस में)
पटना 7.9
गया 3
भागलपुर 7.8
पूर्णिया 9.9
मुजफ्फरपुर 9.6
छपरा 7.1
सुपौल 8.2
फारबिसगंज 9
सबौर 8.8
डेहरी 6.6
मधुबनी 7.7
शेखपुरा 9.5
जमुई 8.5
बक्सर 7.5
शिवहर 8.2
वाल्मिकीनगर 6
भोजपुर 6.8

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More