हिमाचल: स्कूल खुलने के ठीक पहले 41 शिक्षक कोरोना पॉजिटिव पाए गए, विभाग की चिंता बढ़ी

मंडी: हिमाचल प्रदेश में एक तरफ सरकारी स्कूल खोलने का निर्देश जारी हुआ है, तो वहीं दूसरी तरफ स्कूल स्टाफ ही कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए हैं. यहां सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों की नियमित कक्षाएं शुरू होने से पहले कई शिक्षकों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है.

मंडी जिले में शनिवार को 41 शिक्षक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके बाद शिक्षा महकमे में हड़कंप है. बीते दिन भी जिले में दो शिक्षक पॉजिटिव निकले थे. शिक्षकों के ही संक्रमित निकलने से शिक्षा विभाग की नींद उड़ गई है.

गौरतलब है कि प्रदेश में पहली फरवरी से स्कूलों में विद्यार्थियों की नियमित कक्षाएं शुरू होंगी, लेकिन इससे पहले शिक्षकों के कोरोना पॉजिटिव आने से अभिभावकों की चिंता बढ़ गई है. वहीं, शनिवार शाम तक किन्नौर में 19, बिलासपुर में 1 और शिमला में भी कोरोना पॉजिटिव केस का 1 नया मामला सामने आया है.

इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 57424 पर पहुंच गया है. जबकि यहां सक्रिय मामले घटकर 314 रह गए हैं. अब तक 56131 मरीज ठीक हो चुके हैं. वहीं अब तक 963 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है.

शिक्षा विभाग ने स्कूल खुलने के पहले सभी शिक्षकों का कोरोना टेस्ट कराना शुरू किया है. इस जांच में ही शिक्षकों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हो रही है. इसको लेकर शिक्षा विभाग की चिंताए भी बढ़ने लगी हैं. यदि शिक्षक ही कोरोना पॉजिटिव होंगे तो ऐसे में अभिभावक बच्चों को स्कूल कैसे भेजेंगे.

सरकार की ओर से जारी आदेश के अनुसार एक फरवरी से शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों में पांचवीं से बारहवीं की नियमित कक्षाएं लगेंगी. डिग्री कॉलेजों में 8 फरवरी से कक्षाएं लगेंगी. शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों में 15 फरवरी से शिक्षण कार्य शुरू होगा. प्रदेश में स्थित निजी स्कूल भी इस व्यवस्था को अपना सकते हैं. शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूलों से बीस फरवरी तक स्कूलों में आने वाले विद्यार्थियों की संख्या और इस दौरान कोरोना संक्रमण की चपेट में आने वाले विद्यार्थियों और शिक्षकों का ब्योरा भेजने को भी कहा है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More