राबड़ी आवास पर सचिवालय थाने की पुलिस एवं सुरक्षाकर्मियों के बीच झड़प

पटनाः राजधानी में लालू यादव के आवास के बाहर सचिवालय थाना के पुलिसकर्मियों और आवास पर तैनात सुरक्षाकर्मियों के बीच जमकर तू-तू, मैं.-मैं हुई और हाथापाई की नौबत आ गई, जिसके बाद जमकर हंगामा हुआ.

काफी देर तक हंगामा होता रहा और गाली-गलौच के साथ ही मारपीट की भी नौबत आ गई. हालांकि किसी तरह मामले को संभाला गया. बताया जा रहा है कि राबड़ी आवास में तेजस्वी यादव से मिलने आनेवाले लोगों को सचिवालय की पुलिस वहां से हटाने लगी. जिसके बाद राबड़ी आवास पर तैनात सुरक्षाकर्मी उग्र हो गए और उन्होंने सचिवालय थाने की पुलिस को ही वहां से भगाना चाहा. जिसके बाद सचिवालय थाने की पुलिस और राबड़ी आवास पर तैनात  सुरक्षाकर्मी आपस में उलझ गए.

सचिवालय थाना पुलिस  और राबड़ी आवास के सुरक्षा कर्मियों के बीच विवाद इतना बढ़ा कि गाली-गलौच के साथ-साथ मारपीट की भी नौबत आ गई. इस पूरे घटना के बाद सचिवालय थाना पुलिस का कहना है कि वह यहां से भीड़ हटा रहे थे, जबकि राबड़ी आवास में  तैनात सुरक्षाकर्मियों का कहना था कि जो लोग भी तेजस्वी यादव से मिलने आते हैं उन्हें सचिवालय थाना के जवान जबरन यहां से भगा देते हैं.

पुलिसकर्मी और लालू बस पर तैनात सुरक्षाकर्मियों के बीच तू-तू मैं-मैं हंगामा धक्का-मुक्की का मामला राजद के वरिष्ठ नेता भोला यादव ने कहा कि यहां आने वाले लोगों को नेता विरोधी दल से मिलने से रोका जाता है. इसमें सचिवालय थाना के पुलिसकर्मी शामिल हैं और वे लोगों को जबरन भगा देते हैं. जबकि ऐसा करने का अधिकार किसी को नहीं है. राजद की डीजीपी से मांग है कि तत्काल दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए.

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर गुरुवार को RJD के पदाधिकारियों और बिहार विधानसभा चुनाव में RJD के सभी उम्मीदवारों के साथ वरिष्ठ नेताओं की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई थी. इस बैठक के बारे में RJD के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक ने कहा कि इसमें प्रस्तावित मानव श्रृंखला को सफल बनाने की रणनीति बनाना है. उन्होंने यह भी कहा चुनाव के दौरान जिन लोगों ने पार्टी के खिलाफ भितरघात किया है उन सभी के खिलाफ इस महीने के अंत तक कार्रवाई हो जाएगी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More