UP में महिला के साथ निर्भया कांड जैसी हैवानियत: सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या, पोस्टमॉर्टम में खुलासा- प्राइवेट पार्ट में डाली रॉड और पैर भी तोड़ा

 उत्तर प्रदेश में बदायूं जिले के उघैती थाना क्षेत्र स्थित गांव के धर्मस्थल में पूजा करने गई महिला के साथ हैवानियत की इंतेहा की गई. सामूहिक दुष्कर्म के बाद ठीक उसी तरह निजी अंगों को क्षतिग्रस्त कर दिया, जैसा कि दिल्ली की निर्भया संग हुआ था. 

मंगलवार देर शाम पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पुष्टि के बाद अफसरों में खलबली मच गई.पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक महिला के साथ न सिर्फ सामूहिक दुष्कर्म किया बल्कि उसके प्राइवेट पार्ट में रॉड डाल दी, जिससे उसका आंतरिक हिस्सा तक फट गया. आरोपियों ने  महिला का एक पैर और एक पसली तोड़ दी थी. उसके शरीर का सारा खून बह जाने से उसकी मौत हुई.

इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया जबकि एक अन्य फरार है. उनकी धरपकड़ के लिए पुलिस की चार टीमें लगाई गईं हैं. एसएसपी ने लापरवाह उघैती थानाध्यक्ष को निलंबित भी कर दिया है. आरोपियों के खिसाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी.

हैवानियत की यह मामला जिले के उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव का है. 3 जनवरी को यहां की महिला पास के गांव स्थित एक मंदिर पर रोजाना की तरह रविवार को भी गई थी. पुलिस के मुताबिक देर रात मंदिर का महंत अपनी बोलेरो से उसका शव घर के दरवाजे पर फेंककर चला गया. बताया जाता है कि इससे पहले आरोपी महंत उसे अपनी गाड़ी से इलाज के लिए चंदौसी भी ले गया था. परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी महंत समेत उसके एक चेले व ड्राइवर के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मुकदमा दर्ज किया है. 

महिला के परिजनों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया, लेकिन उघैती के थानेदार रावेंद्र प्रताप सिंह ने परिजनों की फरियाद सुनना तो दूर घटनास्थल का मौका मुआयना तक नहीं किया. पहले तो पुलिस परिजनों को थाने के चक्कर कटवाती रही. महिला की मौत कुएं में गिरकर हुई, ऐसा बताकर मामला रफा-दफा करने को कहा गया. लेकिन काफी दबाव के बाद मामला दर्ज किया गया और सोमवार दोपहर 44 घंटे बाद लाश पोस्टमार्टम के लिए भेजी गई. महिला डॉक्टर समेत तीन डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया. 

शाम को रिपोर्ट आई तो हैरान करने वाला खुलासा हुआ. रिपोर्ट में पता चला कि महिला के प्राइवेट पार्ट में गंभीर घाव थे. काफी खून भी निकल गया था. रिपोर्ट में कोई लोहे की रॉड या सब्बल गुप्तांग में ठूंसे जाने की बात भी सामने आई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट देख अफसरों के पैरों तले जमीन खिसक गई. 

एसएसपी संकल्प शर्मा ने कहा कि उघैती थाना क्षेत्र में लगभग 50 वर्षीय महिला का शव मिला था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट और परिजनों की तहरीर पर तीन लोगों के खिलाफ हत्या व दुष्कर्म का मुकदमा लिखा गया है. नामजदों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें लगाई गई हैं. दो आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं. वहीं लापरवाही बरतने वाले उघैती थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More