नालंदा: राजगीर में जबरदस्त बवाल, हथियारबंद बदमाशों ने बीच बाजार रॉड-लाठी से लोगों को बुरी तरह से पीटा, दो दर्जन जख्मी, बच्चे और महिलाओं को मरता छोड़ भागे पुलिसवाले

नालंदा :  इस वक्त एक बड़ी खबर राजगीर से सामने आ रही है, जहां जबरदस्त बवाल देखने को मिला है. शनिवार की देर शाम हथियार से लैस बदमाशों ने आतंक मचाया है. हथियारबंद बदमाशों ने बच्चों, बुजुर्गों और महिलाओं को खूब पीटा है. दर्जनों बदमाशों ने हथियार, रॉड और लाठी डंडे से हमला किया है. लगभग दो दर्जन लोग जख्मी बताये जा रहे हैं, जिसमें से कई लोगों को रेफर कर दिया गया है. घटनास्थल से पुलिसवालों पर लोगों को मरता छोड़ फरार होने का आरोप लगाया जा रहा है.

मामला राजगीर थाना इलाके की है, जहां मुख्य बाजार में शनिवार की देर शाम हथियार से लैस बदमाशों ने लोगों के साथ खूब मारपीट की है. उन्हें बुरी तरह से पीटा गया है. बताया जा रहा है कि अपराधियों ने दर्जनों लोगों को पीट-पीटकर बुरी तरह घायल कर दिया है. जानकारी मिली है कि महिलाओं के साथ बदसलूकी भी की गई है. घटनास्थल पर भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई क्योंकि अपराधी जिसे मन, उसे दौड़ा-दौड़ाकर मार रहे थे.

स्थानीय लोगों का आरोप है कि बदमाशों का आतंक देख मौजूद पुलिसकर्मी भी जान बचाकर भाग खड़े हुए. घटना को अंजाम दे सभी बदमाश बाइक पर सवार हो हथियार लहराते हुए भाग निकले. अपराधियों ने लगभग एक दर्जन से अधिक वाहनों को भी क्षतिग्रस्त किया है. इस घटना से नाराज स्थानीय लोगों ने भी काफी बवाल काटा है. नाराज लोगों ने सड़क पर आगजनी कर पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की है.

घटना के विरोध में नागरिकों ने बाजार की दुकानें बंद करा दी है. पुलिस आक्रोशितों को समझाने में जुटी है. आक्रोशित लोगों ने बताया कि जिस तरह से बदमाशों ने सड़क पर लोगों की पिटाई की उससे जंगलराज की याद ताजा हो गई. डीएसपी और थानेदार की लापरवाही के कारण राजगीर में क्राइम का ग्राफ बढ़ा है. दर्जनों बदमाश बाजार में नागरिकों और दुकानदारों की पिटाई कर चलते बने और मौजूद पुलिसकर्मी भाग खड़े हुए. नागरिकों की सुरक्षा भगवान भरोसे है.

घटना में दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हुए हैं. जख्मी लोगों में नालंदा यूनिवर्सिटी में काम करने वाले समस्तीपुर निवासी रोहित कुमार, बंगाली पाड़ा निवासी बीएमपी जवान सुधीर कुमार, दीपेश कुमार, जितेंद्र कुमार, झालर निवासी आलम, कुंडपर निवासी धर्मेंद्र कुमार, विक्की कुमार, सुधीर कुमार समेत अन्य शामिल हैं. सभी को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है. जहां से गंभीर रूप से तीन घायलों को सदर अस्‍पताल रेफर कर दिया गया है.

डीएसपी सोमनाथ प्रसाद और थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने अस्पताल पहुंचकर घटना के बाबत जख्मी लोगों से पूछताछ की है डीएसपी ने बताया कि पुलिस बदमाशों पर कार्रवाई में जुट गई है. इलाके का सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है. बदमाशों ने किस मंशा से घटना को अंजाम दिया, इसका खुलासा नहीं हो सका है. अंदेशा है कि बदमाश वर्चस्व का प्रदर्शन कर रहे थे.