UP: हाथरस, बलरामपुर के बाद भदोही में दलित लड़की से दरिंदगी, सिर कुचलकर हत्या, रेप की आशंका

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध तमाम दावों के बावजूद थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. अभी कई जिलों में रेप की घटनाओं को लेकर लोगों का गुस्सा शांत भी नहीं हुआ कि भदोही में एक नाबालिग दलित लड़की का बेरहमी के साथ कत्ल कर दिया गया. उसकी हत्या सिर कुचलकर की गई है. लड़की के घरवालों का आरोप है कि बलात्कार के बाद उनकी बेटी को मार दिया गया.

घटना भदोही के गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र की है. जहां चकराजाराम तिवारीपुर गांव में दोपहर के वक्त 14 वर्षीय दलित नाबालिग लड़की घर से निकलकर पास के खेत में शौच के लिए गई थी. लेकिन काफी देर तक वो वापस नहीं लौटी. जब परिजनों ने खेत की तरफ जाकर देखा तो खून से सनी उसकी लाश वहां पड़ी थी. उसका सिर कुचलकर निर्मम तरीके से हत्या को अंजाम दिया गया था. 

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर जा पहुंची. परिजनों ने आशंका जताई है कि उनकी बेटी को रेप के बाद मारा गया है. पुलिस ने मौके पर जांच पड़ताल शुरू कर दी. फॉरेंसिक एक्सपर्ट और क्राइम ब्रांच की टीम को भी मौके पर जांच के लिए बुलाया गया है.

भदोही के पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह का कहना है कि पुलिस रेप और अन्य बिंदुओं पर जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि नाबालिग लड़की की हत्या सिर कुचलकर की गई है. नाबालिग के साथ रेप हुआ है या नहीं, यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा.

घटना को लेकर इलाके में रोष व्याप्त है. हालांकि पुलिस इस मामले की जांच में हर कदम फूंक-फूंक कर रख रही है. क्योंकि इससे पहले हाथरस, बलरामपुर में भी दलित लड़कियों के साथ बलात्कार और हत्या के मामलों ने पुलिस और कानून पर सवालिया निशान लगा दिए हैं. हाथरस में जबरन दलित लड़की की लाश को जला देने से भी यूपी पुलिस और सरकार की किरकिरी हो रही है. विपक्ष ने भी यूपी सरकार पर धावा बोल दिया है. 

 

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More