पटना-भभुआ इंटरसिटी एक्सप्रेस में डाका: हथियारबंद अपराधियों ने यात्रियों से नगदी-मोबाइल लूटे

कोरोना काल में भले ही ट्रेनों का लिमिटेड परिचालन हो रहा हो लेकिन अपराधियों ने इस दौरान भी रेल यात्रियों को निशाना बनाया है.हथियारबंद बदमाशों ने पटना से भभुआ रोड जा रही पटना भभुआ इंटरसिटी 03243 अप एक्सप्रेस में नदौल स्टेशन पर डाका डाला. गन प्वाइंट पर यात्रियों को लेते हुये बदमाशों ने दर्जनों यात्रियों से मोबाइल, आभूषण और हजारों रुपये नगदी लूट ली. वारदात को अंजाम देने के बाद लुटेरे फरार हो गये. लूटपाट के शिकार यात्रियों ने चलती ट्रेन से ही रेलवे कंट्रोल को घटना की सूचना दी. मामले को गंभीरता से लेते हुये रेलवे कंट्रोल ने तारेगना रेल थाना, जहानाबाद रेल थाना और आरपीएफ जहानाबाद को संबंधित घटना की सूचना देते हुए निरोधात्मक कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. 

इस संबंध में पीड़ित रेल यात्री सह गया निवासी अमनदीप कुमार ने बताया कि वह पटना से गया स्थित अपने घर जा रहा था. ज्योंही तारेगना रेल थाने के नदौल स्टेशन पर सोमवार की देर शाम लगभग सात बजे गाड़ी रुकी। हथियारबंद 8-10 अपराधी डिब्बे में चढ़े और हथियार का भय दिखा कर लूटपाट शुरू कर दी. अपराधी दर्जनों महिला व पुरुष यात्रियों से  मोबाइल, आभूषण और नगदी लूट लिये.

पीड़ित यात्रियों के मुताबिक कई अपराधी मास्क पहने थे तो कई गमछे और रूमाल से अपना मुंह बांधे थे. सभी के हाथ में हथियार और डंडे थे. लूटपाट कर रहे अपराधी यात्रियों को मुंह खोलने पर जान से मारने की बार-बार धमकी दे रहे थे. ऐसे में दहशत के बीच यात्री चुपचाप बैठे रहे। महिलाएं अपराधियों से जान बख्शने की चिरौरी कर रहीं थीं लेकिन अपराधी लूटपाट करने में मशगूल रहे.

बताया गया है कि ट्रेन खुलते ही सभी अपराधी नदौल स्टेशन पर ही उतरकर भाग गये. घटना के वक्त बोगी में लगभग 20-25 यात्री सवार थे. लूटपाट में संलिप्त अपराधी नदौल इलाके के बताए जाते हैं. पीड़ित यात्रियों के अनुसार इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन के बाद दूसरी कोई गाड़ी नहीं रहने के कारण लूटपाट के शिकार कोई भी यात्री जहानाबाद स्टेशन पर शिकायत करने नहीं उतर सके. इस संदर्भ में तारेगना रेल थाना और आरपीएफ जहानाबाद के प्रभारी ने बताया कि इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन में यात्री का मोबाइल लूटने की कोशिश की सूचना रेलवे कंट्रोल से मिली है. लूट के शिकार किसी यात्री द्वारा शिकायत नहीं किए जाने की बात बताई है. फिलहाल रेल पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More