समस्तीपुर के सर्जन डॉ. आर आर झा की Corona Virus से मौत, पटना AIIMS में चल रहा था इलाज

समस्तीपुर के प्रख्यात सर्जन डॉ. रति रमण झा की बुधवार की सुबह एम्स में इलाज के दौरान कोरोना वायरस से मौत हो गई. समस्तीपुर के प्रख्यात चिकित्सक डॉ आरआर झा की मौत की ख़बर मिलते ही चिकित्सा जगत के साथ- साथ आम लोगों की आंखें नम हो गईं.

डॉ आरआर झा ने एक मई 2020 को बतौर समस्तीपुर सिविल सर्जन का पदभार ग्रहण किया था. मूल रूप से पूर्णिया के रहने वाले डॉ झा का जन्म 6 जुलाई 1956 को हुआ था. लेकिन नौकरी मिलने के बाद लगभग 40 वर्षो से वो समस्तीपुर में सेवा देते आ रहे थे.

कोरोना संक्रमण को लेकर जिले में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था देने वाले डॉ आरआर झा खुद कोरोना संक्रमित हो गए. 8 जुलाई को उनका सैंपल लिया गया था लेकिन 13 जुलाई तक रिपोर्ट नहीं आने पर दुबारा 14 जुलाई को सैंपल लिया गया था. इस बीच उन्हें सांस लेने में तकलीफ़ हो रही थी. 14 जुलाई को रिपोर्ट पॉजिटिव आने बाद उनकी तबियत को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पटना एम्स रेफर किया गया था. डॉ. झा पूर्व से किडनी की बीमारी से ग्रसित थे. आज सुबह उनकी मौत हो गई. सिविल सर्जन की मौत की खबर के बाद सदर अस्पताल में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया, जहां सभी चिकित्सक और स्वास्थ्य विभाग के कर्मी मौजूद रहे. डॉ आरआर झा की मौत को लोगों ने अपूर्णिय क्षति बताया.

बता दे कि समस्तीपुर जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. इससे पूर्व शिक्षा विभाग के डीपीओ सुनील कुमार तिवारी की मौत हुई थी. इसके बाद किसी बड़े अधिकारी के रूप में समस्तीपुर में सिविल सर्जन डॉक्टर आरआर झा की मौत हुई. कोरोना वायरस से संक्रमित होने से पूर्व डॉ. आरआर झा लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के उपचार और उन्हें कैसे बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो इसके लिए लगे रहे. उनके द्वारा खुद आइसोलेशन सेंटर पर नजर रखी जाती थी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More