गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने की घोषणा: Google भारत में करेगा 75,000 करोड़ रुपये का निवेश

गूगल ने भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को गति देने में मदद करने के लिए 75,000 करोड़ रुपये (10 अरब डॉलर) के फंड की घोषणा की. गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने देश में आयोजित हो रहे छठे गूगल फॉर इंडिया कार्यक्रम में भारत में 75,000 करोड़ रुपये निवेश करने की बात कही. इस राशि का इस्तेमाल हिन्दी, तमिल और पंजाबी सहित अन्य भारतीय भाषाओं में सूचनाओं को हर देशवासी तक पहुंचाने के लिए किया जाएगा. इसके अलावा भारतीय लोगों की जरूरतों को पूरा करने वाले नए प्रोडक्ट्स एवं सर्विसेज के विकास के लिए भी इस फंड का इस्तेमाल किया जाएगा.

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने ‘Google for India Digitisation Fund’ का एलान करते हुए उत्साह जाहिर किया. पिचाई ने कहा कि गूगल भारत में अगले पांच से सात साल में 75,000 करोड़ (करीब 10 अरब डॉलर) का निवेश करेगी. पिचाई ने कहा कि कंपनी इस फंड के तहत इक्विटी इन्वेस्टमेंट के साथ-साथ इकोसिस्टम इन्वेस्टमेंट के जरिए पार्टनरशिप और ऑपरेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास में ये निवेश करेगी.

गूगल फॉर इंडिया कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पिचाई ने कहा कि निवेश से जुड़ा यह फैसला भारत और वहां की डिजिटल इकोनॉमी के भविष्य में कंपनी के विश्वास को दिखता है. पिचाई ने कहा कि इस निवेश में भारत के डिजिटलीकरण से जुड़े चार प्रमुख बिन्दुओं पर ध्यान दिया जाएगा

ये चार अहम बिन्दु इस प्रकार हैंः

1. हर भारतीय को उसकी अपनी भाषा में जानकारी उपलब्ध कराना.

2. भारत की अपनी जरूरतों के हिसाब से नए प्रोडक्ट्स एवं सर्विसेज विकसित करना.

3. बिजनेसेज को डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन के हिसाब से सशक्त बनाना

4. हेल्थकेयर, एजुकेशन और कृषि जैसे क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्तेमाल

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पिचाई ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बातचीत की. प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत में बड़ा इन्वेस्टमेंट फंड शुरू करने और रणनीतिक भागीदारी विकसित करने की गूगल की योजना के बारे में अवगत कराया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे अधिक खुली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है. पीएम ने कृषि क्षेत्र में हाल में किए गए सुधारों और नई नौकरियों के सृजन के लिए शुरू किए गए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का उल्लेख किया.