अखिलेश यादव ने विकास दुबे एनकाउंटर मामले में यूपी सरकार पर किया बड़ा हमला, ट्विट कर कहा – ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बच गई है

आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मास्टरमाइंड विकास दुबे शुक्रवार सुबह पुलिस एनकाउंटर में मारा गया. पुलिस ने बताया कि विकास को उज्जैन से सड़क के रास्ते कानपुर लेकर जा रही यूपी STF की काफिले की गाड़ी आज सुबह दुर्घटनाग्रस्त हो गई. इसके बाद विकास दुबे ने भागने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस को गोली चलानी पड़ी जिसमें उसकी मौत हो गई.

विकास दुबे के एनकाउंटर पर उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पुलिस और युपी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाया.  अखिलेश यादव ने इस पूरे घटनाक्रम पर सवाल उठाते हुए तंज किया है. उन्होंने एक लाइन का ट्वीट किया है कि दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गयी है.

बता दें कल ही अखिलेश ने यादव ने विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद तंज भरा ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा, “ख़बर आ रही है कि ‘कानपुर-काण्ड’ का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है. अगर ये सच है तो सरकार साफ़ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ़्तारी. साथ ही उसके मोबाइल की CDR सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके.”

आपको बता दें कि विकास दुबे को उज्जैन पुलिस ने गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया था. सूचना पर कानपुर से पुलिस व एसटीएफ टीम विकास को सड़क मार्ग से शुक्रवार सुबह कानपुर ला ही रही थी. कानपुर पहुंचते ही भौंती हाईवे के पास पुलिस वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर पलट गया. हादसे में वाहन सवार अभियुक्त और पुलिसकर्मी घायल हो गए.

इसी दौरान विकास दुबे ने घायल पुलिसकर्मी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की. पुलिस टीम ने पीछा किया और उसे घेरकर आत्मसमर्पण करने को कहा गया, लेकिन वह नहीं माना और पुलिस टीम पर गोलियां चलाने लगा. पुलिस ने आत्मरक्षा में जबाबी फायरिंग की। मुठभेड़ में गोली लगने से विकास दुबे घायल हो गया. आनन-फानन इलाज के लिए हैलट अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज का दौरान विकास की मौत हो गई.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More