भारत-चीन झड़प में हिमाचल का 25 साल का जवान सर्वजीत सिंह घायल

ऊना : भारत-चीन की सीमा गलवान में हुए झड़प में 20 जवान शहीद हुए हैं. वहीं हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले का एक जवान घायल बताया जा रहा है. सूचनाओं के अनुसार इस जवान का इलाज लेह-लद्दाख के अस्पताल में चल रहा है, लेकिन अधिकारिक पुष्टि न होने के चलते परिवार का हाल बेहाल है. माता-पिता के अलावा जवान की पत्नी भावुक हैं. आंखें नम हैं और सेना अधिकारियों से बेटे कुशलता का इंतजार कर रहे है. जवान के परिजनों की माने तो उन्हें किसी से बेटे के गंभीर घायल होने की सूचना मिली है, लेकिन सेना ने परिवार को कोई जानकारी नहीं दी. डीसी ऊना ने कहा कि अभी तक ऐसी कोई अधिकारिक सूचना नहीं है, फिलहाल प्रशासन सेना के उच्चाधिकारियों से जानकारी जुटा रहा है.

डेढ साल से नहीं लौटा है घर

बता दें कि शहर के वार्ड नंबर एक का सर्वजीत सिंह भारतीय सेना की पंजाब रेजीमेंट में तैनात है, जो कि भारत-चीन बार्डर पर सीमा की रक्षा कर रहा हैं. सर्वजीत सिंह की शादी दो वर्ष पूर्व हुई थी और करीब डेढ़ वर्ष से घर नहीं लौटा हैं. पिता सतनाम सिंह का कहना है कि गलवान विवाद में सर्वजीत सिंह के तीन साथी शहीद हो गए, जबकि मेरा बेटा जख्मी है और लेह-लद्दाख अस्पताल में उपचारधीन है, जिसकी जानकारी परिवार को कहीं और से ही लगी है, लेकिन सेना द्वारा उन्हें बेटे के बारे अभी तक कोई जानकारी नहीं दी गई है, उन्होंने कहा कि हमें बेटे के बारे में जल्द जानकारी मिले, इसका हमें इंतजार है.

हाथों की उंगलियों में फ्रैक्चर

जवान के पिता ने कहा कि उन्हें सिर्फ इतना ही पता चल पाया कि बेटा गलवान में हुए विवाद में काफी जख्मी हो चुका है और हाथों की ऊंगुलियां भी फ्रैक्चर हो गई है. सर्वजीत सिंह के पिता सतनाम सिंह भी भूतपूर्व सैनिक हैं. उन्होंने कहा कि मेरा बेटा भारत की रक्षा में शहीद भी हो जाए, दुख नहीं होगा, लेकिन हमें बेटे की जानकारी मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं भी सेना का जवान रहा हूं और श्रीलंका में लड़ाई लड़ चुका हूं. अगर भारत सरकार अभी मौका दें, तो चीनी सेना के दांत खट्टे कर दूगां.

डीसी यह बोले

जिलाधीश ऊना संदीप कुमार ने बताया कि मुझे जवान के पिता का फोन आया था, जिन्होंने बेटे के गलवान में हुए विवाद में जख्मी होने की बात कही है. इसको लेकर सेना के अधिकारियों से बात की जा रही है. जैसे ही कोई सूचना मिलती है, तो परिजनों को बताया जाएगा. बता दें कि चीन और भारतीय फौजियों में भिड़ंत में हिमाचल के हमीरपुर का 21 साल का जवान अंकुश ठाकुर शहीद हुआ है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More