नेपाली पुलिस ने भारत-नेपाल बॉर्डर पर की अंधाधुंध फायरिंग, एक भारतीय की मौत, सीमा पर तनाव

सीतामढ़ी से बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां भारत-नेपाल सीमा पर नेपाल पुलिस ने ताबड़तोड़ फायरिंग की है.फायरिंग की इस घटना में जहां 4 भारतीयों को गोली लगी है, वहीं एक शख्स की मौत भी हो गई है. बता दें कि भारत और नेपाल के बीच सीमा को लेकर विवाद चल रहा है. नेपाली संसद ने इसको लेकर एक प्रस्‍ताव भी पारित किया है, जिसमें भारत के कई सीमावर्ती हिस्‍सों को नेपाल का बताया गया है. इसको लेकर दोनों देशों के बीच तनाव है.

मामला भारत-नेपाल सीमा के सीतामढ़ी के लालबंदी बॉर्डर के पास के जानकीनगर गांव की है. जिसमे जानकी नगर टोले लालबंदी निवासी नागेश्वर राय के 25 वर्षीय पुत्र विकेश कुमार की मौत हो गई. जबकि, विनोद राम के पुत्र उमेश राम को दाहिने बांह में तो सहोरबा निवासी बिंदेश्वर ठाकुर के पुत्र उदय ठाकुर को दायें जांघ में गोली लगी है. जानकारी के अनुसार तीन घायलों में से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है.सभी घायलों को इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

खबर के मुताबिक बताया जा रहा है कि भारत-नेपाल सीमा पर विवाद हुआ था जिसके बाद नेपाल पुलिस की ओर से अंधाधुंध फायरिंग की गई. जिसमें एक की मौके पर मौत हो गई, वहीं तीन लोग घायल हो गए. फायरिंग के बाद से सीमा पर तनाव की स्थिती बनी हुई है. बताया जा रहा है कि नेपाल सीमा में भारतीय नागरिक घुस रहे थे, जिस पर विवाद हो गया. इसी दौरान नेपाल पुलिस के जवान और भारतीय नागरिकों में झड़प होने लगी. नेपाल पुलिस का आरोप है कि भारतीय नागरिक द्वारा नेपाल पुलिस के हथियार को छीनकर भागने का प्रयास किया गया, जिसके बाद नेपाल पुलिस की ओर से फायरिंग की गई जिसमें एक की मौत हो गई है वहीं तीन घायल हैं. फिलहाल बॉडर पर दोनों देश की पुलिस तैनात है. हालत तनावपूर्ण बनी हुई है.

बता दे कि दोनों देशों के बीच फिलहाल नक्शा को लेकर तनातनी चल रही है. भारत का कहना है कि इस पूरे मसले की वजह से दोनों देशों के बीच विश्वास का संकट पैदा हुआ है. बातचीत से पहले नेपाल को भारत का भरोसा जीतना होगा. सारा मामला नेपाल के नए नक्शे को लेकर. इस नए नक्शे में नेपाल ने कुल 395 वर्गकिलोमीटर के इलाके को अपने हिस्से में दिखाया है. इसमें लिम्पियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी के अलावा गुंजी, नाभी और काटी गांव भी शामिल हैं. नेपाल ने अपने नक्शे में कालापानी के 60 वर्गकिलोमीटर को अपना बताया है. इसी तरह से लिम्पियाधुरा के 395 वर्गकिलोमीटर पर नेपाल ने अपना दावा जताया है. नेपाल की कैबिनेट की एक बैठक में इस मैप को मंजूरी दी गई थी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More