कोरोना प्रभावित देशों में स्पेन को पीछे छोड़ भारत 5वें नंबर पर, 2 लाख 45 हजार से अधिक मरीज; 6600 से ज्यादा मौत

भारत शनिवार, 6 जून को स्पेन को पीछे छोड़कर कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से सबसे बुरी तरह से प्रभावित दुनिया का पांचवां देश बन गया है. अमेरिका के जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार भारत में कोविड-19 संक्रमण के मामले बढ़कर 2 लाख 45 हजार 670 हो गए हैं, जबकि 6600 से अधिक लोगों की मौत हुई है.

पिछले 24 घंटे से भी कम समय में भारत इस महामारी के मामलों की संख्या की दृष्टि से इटली और स्पेन से भी आगे निकल गया. अब अमेरिका, ब्राजील, रूस और ब्रिटेन ही इस मामले में उससे आगे हैं. इस विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार स्पेन में अब तक इस महामारी के 2 लाख 41 हजार 310 मामले सामने आ चुके हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में शनिवार (6 जून) सुबह 8 बजे तक पिछले 24 घंटे में 9887 नए मरीज सामने आए और 294 मरीजों ने दम तोड़ दिया जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 6,642 हो गई है. देश में अब इस संक्रमण के मामले दो लाख 36 हजार 657 हो गए, जबकि मृतकों की संख्या 6642 हो गई. देश में लगातार तीसरे दिन 9 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में 1 लाख 15 हजार 942 संक्रमित मरीजों का उपचार चल रहा है, जबकि एक लाख 14 हजार 72 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जिनमें से 4,611 मरीज पिछले 24 घंटे में ठीक हुए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ”अब तक 48.20 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. संक्रमण के मामलों में विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.” स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अबतक 45 लाख 24 हजार 317 नमूनों की जांच की गई है. इनमें से भी एक लाख 37 हजार 938 नमूनों की जांच गत 24 घंटे में हुई है.

देश में इस खतरनाक वायरस से अब तक 6,642 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें से सबसे ज्यादा 2,849 मौत महाराष्ट्र में हुई हैं. इसके बाद गुजरात में 1,190, दिल्ली में 708, मध्य प्रदेश में 384, पश्चिम बंगाल में 366, उत्तर प्रदेश में 257, तमिलनाडु में 232, राजस्थान में 218, तेलंगाना में 113 और आंध्र प्रदेश में 73 , कर्नाटक में 57 तथा पंजाब में 48 लोगों की मौत हुई है. जम्मू-कश्मीर में 36 लोगों की मौत हुई है, जबकि बिहार में 29, हरियाणा में 24, केरल में 14, उत्तराखंड में 11, ओडिशा में आठ और झारखंड में सात लोगों की मौत हुई है. हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ में कोविड-19 से पांच-पांच लोगों की मौत हुई. असम में चार जबकि छत्तीसगढ़ में दो लोगों की मौत हुई. मेघालय और लद्दाख में एक- एक रोगी की मौत हुई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार मृतकों में 70 फीसदी वैसे लोग हैं जो पहले से ही अन्य बीमारियों से पीड़ित थे. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण के सबसे ज्यादा 80,229 मामले महाराष्ट्र में हैं. इसके बाद तमिलनाडु में 28,694, दिल्ली में 26,334, गुजरात में 19,094, राजस्थान में 10,084, उत्तर प्रदेश में 9,733 और मध्य प्रदेश में 8,996 लोग संक्रमित हुए हैं।पश्चिम बंगाल में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,303 हो गई है. इसके बाद कर्नाटक में 4,835, बिहार में 4,596 और आंध्र प्रदेश में 4,303 मरीज हैं.

हरियाणा में कोरोना वायरस के 3,597, जम्मू-कश्मीर में 3,324, तेलंगाना में 3,290 और ओडिशा में 2,608 मामले हैं. पंजाब में 2,461, असम में 2,153, केरल में 1,699, उत्तराखंड में 1,215 लोग संक्रमित हैं. झारखंड में 881, छत्तीसगढ़ में 879, त्रिपुरा में 692, हिमाचल प्रदेश में 393, चंडीगढ़ में 304, गोवा में 196, मणिपुर में 132 और पुडुचेरी में 99 मामले हैं. लद्दाख में 97, नगालैंड में 94, अरुणाचल प्रदेश में 45, जबकि अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह और मेघालय में संक्रमण के 33-33 मामले हैं. मिजोरम में 22, दादरा एवं नगर हवेली में 14 और सिक्किम में कोविड-19 के तीन मामले हैं.

मंत्रालय ने कहा, ”कुल 8,192 मामलों को राज्यों को वापस भेजे गए हैं. हमारे आंकड़े भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) से मिलान करके जारी किए जाते हैं.” मंत्रालय ने कहा कि राज्यवार आंकड़ों को और अधिक सत्यापित करने और मिलान करने की जरूरत है.”

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More