बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अमित शाह की आज पहली वर्चुअल रैली

भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह की पहली वर्चुअल रैली आज (रविवार) को होगी. शाम 4 बजे से शुरू होने वाली इस रैली को पार्टी ने ‘बिहार जनसंवाद कार्यक्रम’ नाम दिया है. भाजपा का दावा है कि देश में पहली बार किसी राजनीतिक दल द्वारा इस तरह की डिजिटल रैली हो रही है. इसको बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देजनर भाजपा द्वारा कार्यकर्ताओं से संपर्क साधने का विधिवत प्रारंभ भी माना जा रहा है.

बिहार चुनाव के मद्देनजर इस रैली को अहम माना जा रहा है. हालांकि पार्टी नेताओं का कहना है कि अमित शाह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने पर केंद्र की उपलब्धियों पर विस्तार से अपनी बात रखेंगे. रैली सफल बनाने को बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने खुद पटना आकर तैयारियों का जायजा लिया. रैली का संचालन दिल्ली और पटना दोनों जगहों से होगा. पटना में मंच पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के अलावा सभागार में पार्टी के चुनिंदा प्रदेश पदाधिकारी मौजूद रहेंगे.

4 बजे शुरू होगी रैली


रैली की शुरुआत चार बजे होगी. रैली के लिए एक संचालनकर्ता भी होंगे. गृह मंत्री के भाषण से पहले स्वागत संबोधन और बिहार भाजपा के दो नेताओं उपमुख्यमंत्री व प्रदेश अध्यक्ष को बोलने का मौका मिल सकता है. दिल्ली से केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी संबोधित कर सकते हैं.

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के अलावा स्थानीय चैनलों पर भी होगा प्रसारण


इसका प्रसारण यू-ट्यूब, फेसबुक, ट्विटर व कुछ स्थानीय चैनलों पर होगा. प्रदेश से लेकर जिला व मंडल के साथ ही बूथ स्तर पर भी इस रैली को पार्टीजन सुनेंगे. सभी विधानसभा क्षेत्र में टीवी व एलईडी स्क्रीन लगाया गया है. सभी मोर्चा ने अपनी ओर से 200 स्थानों पर टीवी स्क्रीन लगाया है.

कहां-कहां होगा रैली का प्रसारण


243 विधानसभा क्षेत्र
45 जिला भाजपा संगठन
72 हजार 723 बूथों पर
9547 शक्ति केंद्र
1099 मंडलों में सुनेंगे

भाषण सुनने के लिए जारी लिंक


फेसबुक : https://fb.com/BJP4Bihar
यू-ट्यूब :  https://bit.ly/AmitShahBiharJune7

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More