महाराष्ट्र-गुजरात तट से आज दोपहर बाद 110 किमी/घंटे की रफ्तार से टकराएगा निसर्ग तूफान

अरब सागर से उठा डीप डिप्रेशन मंगलवार को चक्रवाती तूफान में बदल गया. इस तूफान का नाम निसर्ग है जो 13 किमी/घंटे की रफ्तार से महाराष्ट्र के तट की ओर बढ़ रहा है.अनुमान है कि यह दोपहर 1 बजे से शाम 5 बजे के बीच महाराष्ट्र में रायगढ़ के हरिहरेश्वर और दमण के के बीच 110 किमी/घंटे की रफ्तार से टकराएगा. वहां से होते हुए उत्तर में मुंबई, पालघर से होते हुए दक्षिण गुजरात की ओर बढ़ेगा.

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार चक्रवात ‘निसर्ग’ के आज दोपहर से शाम तक मुंबई से करीब 94 किमी की दूरी पर स्थित अलीबाग के पास टकराने की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार निसर्ग तूफान गंभीर चक्रवाती तूफान बन गया है. हवा कि गति पिछले एक घंटे में 85 से 95 किलोमीटर से बढ़कर 90 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटा हो गई है. इसकी रफ्तार 110 किलोमीटर प्रतिघंटे तक पहुंच सकती है. 

IMD मुंबई की वैज्ञानिक शुभांगी भूटे के अनुसार पूरे रायगढ़,मुंबई, ठाणे, पालघर में भारी से भारी वर्षा की संभावना है. आज दोपहर 1-3 बजे के बीच ये अलीबाग के दक्षिण में यह जमीन से टकराएगा. हवा की रफ्तार 100-120 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी.

मुंबई पुलिस ने बुधवार को चक्रवात निसर्ग के खतरे को देखते हुए, मध्यरात्रि से गुरुवार दोपहर तक पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दी और समुद्र तट, पार्कों और सैर-सपाटे जैसी जगहों पर लोगों के आने पर प्रतिबंध लगा दिया. बयान में कहा गया है कि चक्रवात के कारण 25 जाने वाली और 25 आने वाली फ्लाइट के बजाय बुधवार के लिए 8 आने और 11 जाने वाली उड़ाने ही चलेंगी.

साइक्लोन निसर्ग की वजह से महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की 20 टीमों को तैनात किया गया. मुंबई में आठ टीमें, रायगढ़ में पांच टीमें, पालघर में दो, ठाणे में दो, रत्नागिरी में दो और सिंधुदुर्ग में एक टीम को तैनात किया गया है.नौसेना ने मुंबई में 5 फ्लड रेस्क्यू टीम और 3 गोताखोर टीम तैनात की हैं. उधर, गुजरात में एनडीआरएफ की 16 टीमों को भेजा गया है. यहां के तटीय जिलाें में 80 हजार लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया जा चुका है। दोनों राज्यों के 11 जिलों में अलर्ट है.

इस तूफान से पालघर और रायगढ़ स्थित केमिकल और परमाणु संयत्र पर भी खतरा उत्पन्न हो गया है. इनकी सुरक्षा के लिए सावधानियां बरती जा रही हैं. पालघर में देश का सबसे पुराना तारापुर एटॉमिक पॉवर प्लांट है. वहीं, गुजरात और महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों से 40 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. महाराष्ट्र में लोगों को तटीय इलाकों में जाने से रोका गया है.

तूफान के असर से मुंबई और गोवा में बारिश हो रही है. बुधवार को मुंबई में 27 सेमी से ज्यादा बारिश होने का अनुमान है. समुद्र में 2 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं. तूफान की आशंका वाले जिलों में बिजली-पानी की सप्लाई बंद की जा रही है. दक्षिण गुजरात के वलसाड़, नवसारी, सूरत के अलावा दमन, दादरा और नागर हवेली में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मध्यप्रदेश के भाेपाल, उज्जैन, इंदाैर, ग्वालियर संभाग के कुछ जिलाें और शहराें में भारी या अति भारी बारिश के आसार हैं. धार में मंगलवार को एक इंच पानी बरसा.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More