हिमाचल: कोरोना के 1 दिन में 38 नए केस, हमीरपुर में 27, कांगड़ा में 6 और सोलन में आए 5 मामले

हमीरपुर : प्रदेश के लिए वीरवार का दिन चिंता बढ़ाने वाला रहा. एक दिन में ही कोरोना के 38 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. इनके साथ ही अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 90 हो गई है. राज्य भर में अब तक 148 मरीज सामने आ चुके हैं, इनमें 51 लोग ठीक हो चुके हैं. जबकि अब तक तीन की मौत भी हुई है. वीरवार को जो नए मामले सामने आए उनमें सबसे ज्यादा हमीरपुर जिला से 27, कांगड़ा से 6 और सोलन जिला से 5 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं. 
हमीरपुर में मिले संक्रमित 27 लोगों में से 14 मुंबई से लौटे हैं, एक जालंधर के अस्पताल में इलाज करवाकर और एक संक्रमित के संपर्क में आने के बाद पॉजिटिव हुआ है. दो भोरंज और तीन कोरोना संक्रमित व्यक्ति टौणी देवी विकास खंड से हैं. 4 लोग संस्थागत क्वारेंटाइन में जबकि एक होम क्वारेंंटाइन में रह रहा था. कांगड़ा में जो 6 लोग पॉजिटिव आए हैं, वे सभी मुंबई से लौटे हैं. वहीं सोलन जिला के बद्दी में वीरवार को पॉजिटिव आए पांचों लोग 15 मई को पश्चिम बंगाल से यहां पहुंचे थे.

सीएम के संकेत: 31 मई के बाद प्रदेश की सभी सीमाएं हाे सकती हैं सील

लाॅकडाउन 4.0 समाप्त हाेते ही हिमाचल की सभी सीमाएं सील हाेंगी. उसके बाद हिमाचल में न काेई आ सकेगा और न ही बाहरी राज्याें में जा सकेगा. हालांकि अभी तक राज्य सरकार ने अंतिम फैसला नहीं किया है, लेकिन सीएम जयराम ठाकुर संकेत दे चुके हैं. बाहरी राज्याें से वापस आए हिमाचलियाें से ही राज्य में काेराेना संकट और बढ़ा है. बीते चार मई से लेकर अब तक जितने भी पाॅजिटिव केस आए हैं, उन सबकी ट्रेवल हिस्ट्री बाहरी राज्याें से है. ऐसे में केस बढ़ना संभव है, जिसे सरकार भी मान रही है. सीएम जयराम ठाकुर ने बीते बुधवार काे मीडिया से अनाैपचारिक बातचीत में साफ कह दिया था कि राज्य में काेराेना के केस बढ़ने की संभावना है.बाहरी राज्याें में फंसे हिमाचलियाें की घर वापसी के लिए सरकार ने हर संभव प्रयास कर रही है.

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 32 हॉटस्पॉट चिह्नित, कांगड़ा में सबसे ज्यादा 11

ग्रीन जोन के मुहाने पर खड़े हिमाचल में जैसे ही दूसरे राज्यों से लोगों के आने की रफ्तार बढ़ी, कोरोना के संक्रमण के मामलों में भी तेजी आने लगी. लाॅकडाउन-3.0 की समाप्ति तक एक ही मामला रह गया था और आज स्थिति यह है कि प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 83 हो गई है. इसमें सारा योगदान बाहर से आने वाले लोगों का ही है. मामलेे बढ़ने के बाद हिमाचल के छह जिलों में नए सिरे से 32 कंटेनमेंट जोन तय किए गए हैं. कांगड़ा जिले में सबसे अधिक 11 जोन बनाए गए हैं. वहीं, हमीरपुर में 10, चंबा में 4, ऊना में 3, मंडी में 3, सिरमौर में एक कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं. हर कंटेनमेंट जोन में तीन किमी. का दायरा रखा गया है और इसमें कर्फ्यू में दी गई ढील समाप्त कर दी गई है.


ये हैं कंटेनमेंट जोन  जिला

  • चंबा के खड़जोता, पिवहला, दियूर, दबाडेला
  • हमीरपुर के जीपी बुहारी, जीपी लारहा, जीपी बजरोल पालभू, जीपी कक्कड़, जीपी ग्वाल पठार, जीपी दांदड़ू, जीपी मांघू सुल्तानी, जीपी ग्वारदु, जीपी डांगी, जीपी कश्मीर
  • कांगड़ा के जमानबाद, घीण, कुलथी, झीड़भाला, घुरकड़ी, मजाकरा पंचरुखी, पपरोला, ककरैण, गोलवां, जौंटा 
  • मंडी के लड़भड़ोल, संधोल, बलद्वाड़ा 
  • ऊना के गगरेट, हरोली (बाथड़ी गांव से 1.50 किमी.), कोटला खुर्द
  • सिरमौर के पांवटा साहिब का वार्ड नं. 4 और वार्ड नं. 13
You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More