पटना में छात्र जदयू के नेता कन्हैया कौशिक की गोली मारकर हत्या

पटना में होली को लेकर बिहार में सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल गई है. होली के दिन यानि मंगलवार की शाम को पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के पटेल नगर में छात्र जदयू के नेता कन्हैया कौशिक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. उनके एक दोस्त को भी गोली मारी गई, जिसे घायल अवस्‍था में हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. घटना शास्त्री नगर थाना क्षेत्र के महेश नगर रोड नं. 5 में घटी . घटना का कारण पोस्टर पर आरोपी का नाम न होना बताया जा रहा है. इस घटना के बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई.

दरअसल, होली मिलन समारोह के एक कार्यक्रम में कुश नामक एक युवक का नाम बैनर पोस्टर में नहीं था] जबकि उसी पोस्टर में कन्हैया कौशिक का नाम था. इसी बात को लेकर कुश की नाराजगी थी. उसकी नजर में कन्हैया ने ही पोस्टर से उसका नाम हटवाया था. इसी बात को लेकर मंगलवार को कन्हैया और कुश में झगड़ा हुआ था. इसके बाद दोस्तों की सलाह पर एसकेपुरी थाने मे कन्हैया ने कुश के खिलाफ लिखित शिकायत की. इस बात से खुन्नस खाकर कुश ने गहरी साजिश रच डाली. कुश ने समझौता करने के नाम पर कन्हैया को पटेल नगर में बुलाया और उसे तथा उसके दोस्त चंदन को भी गोली मार दी.

गोली लगने के बाद स्थानीय लोगों ने कन्हैया को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उसके साथ ही उसके दोस्त चंदन को भर्ती किया गया, जहां इलाज के बाद वह खतरे से बाहर बताया जा रहा है. इस घटना के बाद से पटना पुलिस महकमे में खलबली मची हुई है. एसएसपी ने मामले में सिटी एसपी के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर दी है .

अपने नेता की हत्या की घटना के बाद से छात्र बेहद नाराज हैं. हत्या की घटना के बाद मौके पर जदयू एमएलसी रणवीर नन्दन समेत कई नेता पहुंचे. जदयू के एमएलसी ने माना कि कन्हैया पार्टी का एक्टिव मेम्बर थे. उन्होंने गुनहगारों की जल्द गिरफ्तारी कराने की बात कही है .

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More