रायपुर में चाइल्ड पोर्न के 80 वीडियो किए गए शेयर, कॉल डिटेल के बाद 7 केस दर्ज, जल्द ही होगी गिरफ्तारी

रायपुर .:राजधानी रायपुर में पोर्न वीडियो अपलोड करने वालों के खिलाफ पुलिस ने सख्ती शुरू कर दी है. रविवार-सोमवार आधी रात 80 मोबाइल नंबर के खिलाफ केस दर्ज किया है. इन नंबरों से पोर्न वीडियो खासतौर पर चाइल्ड पोर्न के वीडियो न सिर्फ अपलोड किए गए, बल्कि इन्हें शेयर भी किया गया. पुलिस इन नंबरों को उपयोग करने वालों के नाम और लोकेशन का ब्योरा निकाल चुकी है. जल्द ही उन्हें गिरफ्तार करने की तैयारी है. पुलिस को नेशनल क्राइम रिकाॅर्ड ब्यूरो पिछले साल अपनी रिपोर्ट भेजी थी. उसी रिपोर्ट पर अब अमल करते हुए आईटी एक्ट की अलग-अलग धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया गया.

पुलिस अफसरों के अनुसार पोर्न साइट को लेकर दर्ज किए गए 7 केस में रायपुर का केवल एक केस है. बाकी अलग-अलग शहरों के हैं. इनमें रायपुर के अलावा बिलासपुर, जांजगीर व दूसरे शहर हैं. सभी के मामले गंज थाने में शन्यू में दर्ज किए गए. अब उनकी फाइल संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षकों को भेजकर उनके माध्यम से जांच करवायी जाएगी. रायपुर पुलिस को एनसीआरबी से भेजी गई रिपोर्ट में बताया गया था कि छत्तीसगढ़ में 80 पोर्न वीडियो शेयर किए गए हैं. पुलिस ने उस रिपोर्ट के आधार पर उन नंबरों का पता लगाया जिन नंबरों पर उन्हें अपलोड किया गया था. बाद में उन्हें अलग-अलग मोबाइल नंबरों पर शेयर किया गया.


 पुलिस ने उन सभी नंबरों की जानकारी निकाली. ये पता लगाया कि मोबाइल नंबर किन नामों से जारी किए गए हैं? उन्हें कौन उपयोग कर रहा है? जांच में ये भी पता लगाया गया कि एक-एक वीडियो कितनी कितनी बार अपलोड किए गए हैं. उसके बाद ही अपराध पंजीबद्ध किया गया है. हालांकि अफसरों ने अभी पोर्न साइट अपलोड करने वालों में किसी का भी नाम जाहिर नहीं किया है. कहा जा रहा है कि संबंधितों की गिरफ्तारी के बाद उन्हें सामने लाया जाएगा. पोर्न साइट का ये मामला इसलिए भी गंभीर माना जा रहा है क्योंकि इसमें बच्चों से जुड़े पोर्न क्लिप हैं.


साइबर सेल में टीम
राजधानी में साइबर सेल की एक निगरानी में एक टीम बनाई गई है, जो पोर्न वीडियो, फोटो और कंटेंट पोस्ट करने वालों की नजर रख रही है. ऐसे मोबाइल नंबरों की निगरानी की जा रही है, जो अपलोड करने के बाद उन्हें शेयर करते हैं. आने वाले दिनों में ऐसे मोबाइल नंबरों की पहचान कर उनके खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा. आला अफसरों ने संकेत दिए हैं कि त्योहार के बाद मोबाइल नंबर का उपयोग करने वालों की गिरफ्तारी शुरू की जाएगी.

80 में 10 मोबाइल रायपुर में चल रहे   
एसएसपी आरिफ शेख ने बताया कि 80 मोबाइल नंबरों का चिंहित किया गया है, उनमें 10 से ज्यादा नंबर रायपुर में चल रहे हैं. बाकी अन्य शहरों के मोबाइल नंबर हैं. एसएसपी के अनुसार भले ही 7 एफआईआर दर्ज की गई, लेकिन आरोपी ज्यादा हो सकते हैं. वीडियो अपलोड करने के बाद जितने लोगों ने उसे शेयर किया उन सभी को दायरे में लिया जाएगा.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More