पटना में कार्यकर्ता सम्मेलन से JDU के चुनाव अभियान का आगाज, CM नीतीश का इंतजार

पटना : जनता दल यूनाइटेड (JDU) अपने वृहत कार्यकर्ता सम्मेलन के जरिए रविवार को पटना के गांधी मैदान में बिहार विधानसभा चुनाव अभियान का विधिवत आगाज कर रहा है. सम्मेलन सुबह 10.30 बजे शुरू हो चुका है. हालांकि, इसका औपचारिक उद्घाटन मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के आने पर 12.15 बजे होगा. इसके लिए कार्यकर्ताओं का आना लगातार जारी है. संयोग यह है कि एक मार्च को मुख्यमंत्री (CM) व जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार का जन्मदिन भी है.

विदित हो कि एक दशक के दौरान यह दूसरा मौका है जब नीतीश कुमार ने एक मार्च काे अपने जन्‍मदिन के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं का सम्मेलन आयोजित किया है. इससे पहले 2015 में भी एक मार्च को जेडीयू का कार्यकर्ता सम्‍मेलन हुआ था. ‘2020 फिर से नीतीश’ के नारे के साथ आयोजित आज के सम्‍मेलन में दो लाख कार्यकर्ताओं के आने का अनुमान है.

बूथ अध्यक्षों व बूथ सचिवों की मौजूदगी

रविवार को होने वाले जेडीयू कार्यकर्ता सम्मेलन का महत्व इस मायने में हैै कि पार्टी ने इस वर्ष सभी विधानसभा क्षेत्रों में बूथ स्तर तक अध्यक्षों व सचिवों की बड़ी फौज तैयार कर ली है. इन्हें कार्यकर्ता सम्मेलन में विशेष रूप से आमंत्रित किया गया. यह पहला मौका है, जब जेडीयू के कारब दो लाख बूथ अध्यक्ष व सचिव कार्यकर्ता सम्मेलन में मौजूद हैं. इनके अतिरिक्त पार्टी के सभी पदाधिकारियों व क्षेत्रीय पदाधिकारियों को भी आमंत्रित किया गया है. सम्मेलन में पार्टी के सभी सांसद और विधायक भी मौजूद हैं. पूर्व में प्रत्याशी रहे और अपने को संभावित प्रत्याशी मान रहे पार्टी नेताओं की भी उपस्थिति दिख रही है. इनका सम्‍मेलन में आना लगातार जारी है.

15 साल बनाम 15 साल के सूत्र वाक्य की होगी व्याख्या

जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) आरसीपी सिंह ने कहा कि पार्टी इस बार 15 साल बनाम 15 साल के सूत्र वाक्य के साथ चुनाव मैदान में जाएगी. इस क्रम में मतदाताओं को यह बताया जाएगा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले 15 साल में बिहार में क्या परिवर्तन हुए और लालू-राबड़ी के 15 साल में बिहार की क्या स्थिति थी.

नीतीश के विकास कार्यों व सामाजिक अभियान को बताएगी पार्टी

जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह कहते हैैं कि यह कार्यकर्ता सम्मेलन है। कोई रैली नहीं है. हम अपने कार्यकर्ताओं को यह बताएंगे कि वे नीतीश कुमार द्वारा किए गए विकास व सामाजिक अभियान के साथ मतदाताओं के बीच जाएं. यही वोटरों के दिल में है। हम उन्हें याद दिलाएंगे कि किस तरह से शराबबंदी का असर समाज पर पड़ा है. जल-जीवन-हरियाली अभियान किस मायने में आने वाली पीढ़ी के लिए महत्वपूर्ण है.

मंत्रियों-विधायकों के आवास पर कार्यकर्ताओं के रहने की व्यवस्था

जेडीयू कार्यकर्ता सम्‍मेलन को लेकर पटना के चौक-चौराहे व आयोजन स्‍थल गांधी मैदान पार्टी के पोस्टरों से भरे दिख रहे हैं. कार्यकर्ताओं का गांधी मैदान पहुंचना जारी है। बाहर से आने वाले कार्यकर्ताओं के रहने के लिए मंत्रियों व विधायकों के आवास पर रहने-खाने की व्यवस्था की गई है.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More