पटना में नहीं थम रहा अपराधों का दौर : नाबालिग लड़की को सरेआम अगवा कर रात भर किया सामूहिक दुष्कर्म

पटना : अपराधी सरेआम लड़की को अगवा कर कार में ले गए और बंधक बना सामूहिक दुष्‍कर्म किया, फिर धमकी देकर छोड़ दिया. घटना की जानकारी करीब 24 घंटे बाद गुरुवार की शाम लड़की के एक पार्क में बदहवास अवस्‍था में मिलने पर हुई. इससे आक्रोशित भीड़ ने देर रात बवाल काटा. भीड़ ने थाने का घेराव कर करीब डेढ़ घंटे सड़क जाम कर आगजनी की. हिंसा बड़ती देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. घटना पटना के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र की है.

कोचिंग निकली लड़की के साथ हादसा

पटना के पत्रकार नगर इलाके में 13 वर्षीया नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है. लड़की ने पूछताछ में बताया कि वह हर रोज की तरह बुधवार की शाम हनुमान नगर स्थित कोचिंग जाने के लिए घर से निकली थी. इसी बीच कार सवार चार लड़कों ने उसे जबरन गाड़ी में बिठा सचिवालय कॉलोनी की तरफ मांझी पार्क के पास एक कमरे में लेकर गए. कार में संतोष सहनी भी सवार था, जो उसके मोहल्ले में फल-सब्जी का ठेला लगाता है. सबने मिलकर रातभर उसके साथ दुष्कर्म किया, फिर धमकी देकर छोड़ दिया.

पार्क में बदहवास अवस्‍था में मिली

लड़की पटना में अपने बुआ के पास रहकर पढ़ाई करती है. काफी देर तक घर नहीं आने पर उसके स्वजनों ने बुधवार की रात पत्रकार नगर थाने में गुमशुदगी की सूचना दी. स्वजन अपने स्तर से खोजबीन कर रहे थे. तभी उसके फूफा को जानकारी मिली कि वह सचिवालय कॉलोनी पार्क में देखी गई है. इसके बाद घरवाले वहां पहुंचे तो वह बदहवास पार्क में बैठी थी. वह शर्म के कारण घर नहीं लौट रही थी.

आपबीती सुन सन्‍न रह गए स्‍वजन

पहले तो वह काफी देर तक चुप रही, फिर उसने आपबीती सुनाई. उसने बताया कि बुधवार को कोचिंग जाने के क्रम में वह जैसे ही पार्क के पास पहुंची, संतोष और उसके साथ तीन अन्य साथियों ने उसे अगवा कर लिया. फिर, एमआइजी कालोनी स्थित एक ऑटो चालक के कमरे पर ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया. वारदात में ऑटो चालक भी शामिल रहा. उन्‍होंने मारपीट की तथा घटना की जानकारी किसी को देने पर हत्‍या कर देने की धमकी भी दी. उसकी आपबीती सुन स्‍वजन सन्‍न रह गए.

एक गिरफ्तार, घटनास्‍थल पर लगाई आग

स्‍वजन उसे लेकर थाना गए तथा घटना की जानकारी पुलिस को दी. लड़की की निशानदेही पर पुलिस ने एक आरोपित संतोष को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद पुलिस एफएसएल की टीम के साथ एमआइजी कालोनी स्थित घटनास्थल पर पहुंची, लेकिन इसके पहले अपराधियों ने साक्ष्य को मिटाने के लिए कमरे में आग लगा दी थी. पुलिस को वहां जले हुए कपड़े मिले.

सिटी एसपी (पूर्वी) जितेंद्र कुमार ने बताया कि लड़की के बयान पर एक आरोपित को गिरफ्तार किया गया है. शुक्रवार को कोर्ट में बयान कराने के साथ उसकी मेडिकल जांच कराई जाएगी.

आक्रोशित भीड़ का बवाल, पुलिस लाठीचार्ज

इस बीच घटना की जानकारी मिलने पर स्‍थानीय लोग आक्रोशित हो गए. उन्‍होंने थाने का घेराव कर बवाल काटा. भीड़ ने सड़क जाम कर आगजनी भी की. सूचना मिलने पर पहुंचे सिटी एसपी ने लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन वे मानने के लिए तैयार नहीं थे. हिंसा बढ़ती देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को तितर-बितर कर दिया.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More