केरल के मस्जिद में पूरे पारंपरिक हिंदू रीति-रिवाज से हुई शादी, मुस्लिम समाज ने पेश की मानवता की मिसाल

केरल के मस्जिद में एक हिंदू लड़की की पारंपरिक रीति-रिवाज से शादी और उसका रिस्पेंशन कर मुस्लिम समाज ने मानवता की मिसाल पेश की है . मुस्लिम समाज द्वारा किये गये इस कार्य की सीएम पिनराई विजयन ने तारीफ की है. 

दरअसल रविवार को केरल के अलापूझाके चेरुवल्ली स्थित जुमा मस्जिद पारंपरिक हिंदू रीति-रिवाज के साथ एक शादी संपन्न हुई. शादी संपन्न होने के बाद मस्जिद कमिटी ने खास भोज का भी आयोजन किया, जिसमें हिंदू-मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग शामिल हुए. इस शादी की चर्चा पूरे राज्य में हो रही है.

बताया जाता है कि 22 साल के अंजू के पिता की दो साल पहले सड़क हादसे में मौत हो गई थी. जिसके बाद से उसके घर की हालत खराब चल रही थी. पैसे के कारण शादी के लिए खर्चों का इंतजाम नहीं हो पा रहा था. ऐसे में अंजू की मां ने बेटी की शादी के लिए स्थानीय मस्जिद से आर्थिक मदद मांगी.  जिसपर मस्जिद कमिटि ने भी पूरी मदद का भरोसा दिया था. अंजू की शादी 19 जनवरी को शरद से तय हुई थी .

शादी की तय तिथि रविवार 19 जनवरी को मस्जिद परिसर में फूलों की सजावट की गई. मस्जिद के अंदर ही मंडप बनाया गया और मेहमानों के बैठने की व्यवस्था की गई थी. पूरे हिंदू रीति रिवाज से अंजू की शादी हुई. शादी के बाद मेहमानों के लिए मस्जिद परिसर में ही भोज रखा गया. सभी लोगों को शाकाहारी व्यंजन परोसे गए. इस शादी में दोनों समुदाय की तरफ से करीब एक हजार लोग शामिल हुए. वहीं चेरुवल्ली जमात कमेटी की ओर से दुल्हन को सोने के 10 जेवर और 2 लाख रुपये उपहार में दिए गए.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More