2 साल पहले किया लव मैरिज, पर भरोसा ना कर सका ,चरित्र संदेह पर पत्नी की हत्या

जयपुर : यहां आमेर इलाके में युवती की हत्या का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने सोमवार को उसके पति को गिरफ्तार कर लिया. प्रारंभिक पूछताछ में पति ने खुलासा किया कि करीब दो साल पहले उसकी लव मैरिज हुई थी. इसके बाद पत्नी के चरित्र पर संदेह के चलते उनके बीच अनबन रहने लगी. ऐसे में उसने हत्या की साजिश रची. रविवार दोपहर को उसने अपनी पत्नी को मिलने के बहाने बुलाया. उसे बीयर पिलाई. इसके बाद रात को आमेर इलाके में जयपुर दिल्ली हाइवे पर नई माता मंदिर के पास सूनसान जगह गला घोंटकर हत्या कर दी.

शव की पहचान छिपाने के लिए भारी पत्थर से पत्नी का सिर व चेहरा कुचलकर हत्या कर दी. उसकी स्कूटी को झाड़ियों में पटक कर भाग निकला. सोमवार को सुबह 8:30 बजे राहगीरों की सूचना पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरु की. मौके पर मिली स्कूटी के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर शव की शिनाख्त जयसिंहपुरा खोर, ब्रह्मपुरी में झुलेलाल कॉलोनी निवासी रेशमा उर्फ नैना मंगलानी (25) के रूप में की. इसके बाद मृतका रेशमा के मोबाइल कॉल डिटेल्स व परिजनों से हुई पूछताछ के बाद संदेह के घेरे में आए पति अयाज अहमद अंसारी (25) को पकड़कर पूछताछ की तो उसने वारदात करना कबूल कर लिया.

मिलने के बहाने बुलाया, फ्लैट पर बीयर पिलाई और हत्या कर फरार

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अशोक गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार अयाज अहमद अंसारी जयपुर में ही घाटगेट स्थित सराय वालों का मोहल्ला निवासी रियाज अहमद का बेटा है. पूछताछ में सामने आया कि अयाज की जयसिंहपुरा खोर निवासी नैना उर्फ रेशमा से करीब दो साल पहले मुलाकात हुई थी. दोस्ती गहरी होने के बाद अक्टूबर 2017 में अयाज अहमद ने नैना उर्फ रेशमा से लव मैरिज कर ली.

पूछताछ में सामने आया कि शादी के बाद दोनों कालवाड़ रोड पर मंगलम सिटी में एक फ्लैट में रहने लगे. पिछले कुछ समय से अयाज को अपनी पत्नी रेशमा उर्फ नैना के चरित्र पर संदेह होने लगा. जिससे उन दोनों के बीच अनबन होने लगी. रेशमा के परिजनों के मुताबिक रेशमा पिछले कुछ माह से जयसिंहपुरा खोर में अपने पीहर आकर रहने लगी. वह पति अयाज से तलाक मांगने लगी. करीब दो माह पहले रेशमा ने एक बेटे को भी जन्म दिया. इस बीच पति पत्नी के बीच विवाद गहरा गया और अयाज अहमद ने अपनी पत्नी की हत्या करने की साजिश रची.

योजना के मुताबिक अयाज ने रेशमा को एक बार बातचीत के लिए मिलने बुलाया. तब रविवार दोपहर करीब 3 बजे रेशमा अपने घर से स्कूटी लेकर घर से निकली. उसकी अयाज से मुलाकात हुई. तब अयाज उसे मंगलम सिटी, कालवाड़ रोड अपने फ्लैट पर ले गया. वहां उसने रेशमा को बीयर पिलाई. फिर उसे बातों में लगाकर जयपुर दिल्ली हाइवे पर नई माता मंदिर की तरफ आया।. वहां हाइवे किनारे सूनसान जगह रेशमा की गला घोंटकर हत्या कर दी. फिर उसे थोड़ा घसीटकर झाड़ियों के बीच ले गया. वहां भारी पत्थर से सिर व चेहरा बुरी तरह कुचल दिया और भाग निकला.

वारदात के बाद डीसीपी नार्थ राजीव पचार के निर्देशन में एडिशनल डीसीपी सुमित गुप्ता, एसीपी आमेर बृजेंद्र सिंह भाटी के नेतृत्व में पुलिस टीम ने तकनीकी और अन्य पहलुओं पर पड़ताल शुरु की. शव की शिनाख्त होने के बाद परिजनों से बाचतीत में रेशमा और अयाज के बीच अनबन की बात सामने आई. तब पुलिस ने कॉल डिटेल्स भी जुटाई. इसके बाद अयाज को पकड़ लिया. पूछताछ में उसने हकीकत बयां कर दी.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More