तेजस्वी यादव ने अररिया में बीजेपी पर जमकर हमला बोला, तेजस्वी ने कहा- हम जीते जी CAA को लागू होने नहीं देंगे

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को अररिया में बीजेपी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि, ‘मेरी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर सड़क पर उतरी, सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की. हम जीते जी इस काले कानून को लागू होने नहीं देंगे. नागरिकता साबित करना है तो डीएनए जांच करा लें, बीजेपी अपना भी जांच करवा लें.’

तेजस्वी ने नागरिकता संशोधन कानून के बारे में तल्ख तेवर में कहा कि, ‘भाजपा के लोग पूछ रहे हैं कि हम इस देश के नागरिक हैं या नहीं, लेकिन हम लोग नागरिकता साबित करने के लिए एक कागज नहीं देंगे… एक भी कागज नहीं देंगे. और किसको देंगे, सही कागज भी होगा तो उनका बाबू बैठा होगा, मोदी जी बैठाए होंगे, अमित शाह बैठाए होंगे. सही कागज को भी नहीं मानेगा.’ इस देश की आजादी में सभी लोगों का खून बहा है, चाहे वह हिंदू हो, मुस्लिम हो, सिख हो या ईसाई हो. उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समाज में जहर घोलने का काम कर रहे हैं.

तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी जमकर तंज कसा और कहा है कि अब तो जनता को मूर्ख बनाना छोड़ दीजिए। तेजस्वी ने कहा कि आदरणीय नीतीश कुमार जी को प्रपंच, दुष्प्रचार व नदारद कार्यों के झूठे प्रचार में महारत हासिल है. जनता को भ्रमित करने के लिए नित नए स्वांग रचते हैं, दोहरा चरित्र अपनाते हैं. एक तरफ तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं जो कुर्सी के लालच में धोखा देते हैं तो दूसरी तरफ लालू प्रसाद यादव हैं जिन्होंने अपने विचारों से कभी समझौता नहीं किया.

तेजस्वी यादव ने कहा कि, बीजेपी को अभी भी लालू प्रसाद यादव का खौफ है. उन्होंने कथित दागी नेताओं को बीजेपी में शामिल कराने पर चुटकी लेते हुए कहा कि, जो कमल छाप साबुन से नहा लेता है, उसके सारे दाग साफ हो जाते हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी उन्होंने हमला बोला और कहा कि, बुद्ध की धरती पर योगी आदित्यनाथ ने नफरत फैलाने का काम किया. उन्होंने योगी की तुलना दागी बाबाओं से कर दी


You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More