चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले में जल्द दर्ज होगा लालू यादव का बयान, 139.35 करोड़ की हुई थी अवैध निकासी

चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले आरसी 47ए/96 में जल्द ही बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) का बयान दर्ज किया जाएगा. मामले में अब तक लगभग 94 आरोपियों के बयान दर्ज किये जा चुके हैं. शेष बचे 20 आरोपियों के बयान इसी महीने दर्ज किये जाने की संभावना है. इसमें लालू यादव का भी नंबर आयेगा.

सीबीआई की विशेष अदालत ने अभियोजन साक्ष्य बंद करते हुए 20 मई 2019 से आरोपियों के बयान दर्ज किये जाने की तारीख निर्धारित की थी. तब से लेकर अब तक बयान जारी है. मामले की सुनवाई डे-टू-डे चल रही है. एक दिन में अधिकतम चार आरोपियों के बयान दर्ज किये गये हैं.

बता दें कि डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपए की अवैध निकासी से जुड़े चारा कांड संख्या आरसी 47ए/96 मामले में वर्तमान में 114 आरोपित ट्रायल फेस कर रहे हैं. सीबीआई ने 176 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी. 148 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किया गया था. चली लंबी सुनवाई के दौरान कई आरोपियों का निधन हो चुका है.

इस मामले में कई अहम लोगों का बयान दर्ज होना बाकी है. इनमें लालू प्रसाद यादव, पूर्व सांसद जगदीश शर्मा, पूर्व सांसद डॉ. आरके राणा, सेवानिवृत्त आईएएस फूल चंद सिंह,  बेक जुलियस, के अरमुगम, पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, लोक लेखा समिति के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत, क्षेत्रीय निदेशक एमसी सुवर्णो  सहिस कई अन्य शामिल हैं.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More