बिहार चुनाव-2020: नीतीश की पार्टी जदयू पटना की आधी विधानसभा सीटों पर दावा करेगी

आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में सीटों कें बटवारे को लेकर अभी से ही सुगबुगाहट शुरू हो गई है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू राजधानी पटना की आधी विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने का दावा करेगी. गुरुवार को गर्दनीबाग सामुदायिक भवन में जदयू विधान पार्षद प्रो. रणवीर नंदन ने दीघा विधानसभा क्षेत्र के बूथ स्तरीय सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए कहा कि पटना महानगर में इस बार जदयू 50 प्रतिशत विधानसभा सीटों पर अपना दावा करेगा. फिलहाल पटना की सभी विधानसभा सीटों पर भाजपा का कब्जा है.

कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रो. रणवीर नंदन ने कहा कि हमारे नेता नीतीश कुमार की सोच के मुताबिक पार्टी ने बूथ स्तर तक खुद को मजबूत कर लिया है. राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह इसको लेकर राज्यभर का दौरा कर रहे हैं. प्रो. नंदन ने कहा कि पटना महानगर के दीघा विधानसभा क्षेत्र के 408 बूथों पर बूथ अध्यक्ष व सचिव का मनोनयन जदयू ने कर लिया है. जल्द 21 सदस्यीय समिति बनाने का निर्देश उन्होंने दिया। प्रो. नंदन ने कहा कि मतदाताओं तक पहुंचने के लिए महासंपर्क अभियान चलाएं. सभी समुदाय एवं धर्मों के लोगों को जोड़ें और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा छात्र, युवा, महिलाएं, छात्राएं, वृद्धजनों के लिए चलायी गयीं विकास की योजनाओं को सब तक पहुंचाने में साझीदार बनें.

प्रो. नंदन ने कहा कि किसी भी पार्टी के लिए विचारधारा, कार्यकर्ता एवं सदस्यता, संगठन व कार्यक्रम मुख्य विषय होते हैं. विधानसभा के बूथ सम्मेलन के बाद 22 एवं 23 जनवरी को राजगीर में आयोजित प्रशिक्षण वर्ग में इन विषयों पर चर्चा होगी. 19 जनवरी को आयोजित जल-जीवन- हरियाली अभियान के समर्थन में बनने वाली मानव शृंखला में पटना महानगर जदयू के बूथ स्तरीय कार्यकर्ता बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे.

सम्मेलन की अध्यक्षता दीघा विधानसभा के प्रभारी श्रवण चन्द्रवंशी, संचालन महानगर जदयू के अध्यक्ष अमर कुमार सिन्हा व धन्यवाद ज्ञापन दीघा प्रभारी राजू चन्द्रवंशी ने किया. मौके पर दीघा सेक्टर अध्यक्ष अरुण सिंह, गर्दनीबाग के शैलश सिन्हा, सचिवालय अध्यक्ष राजीव रौशन, सोनी निषाद, डॉ.धीरज सिन्हा, अवधेश प्रसाद सिन्हा, दीपक सिन्हा सहित सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे.

You might also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More